11.3 C
Dehradun
Monday, April 22, 2024
Homeहमारा उत्तराखण्डधैर्य और तकनीक का अद्भुत मिश्रण है वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफी, कैमरे की...

धैर्य और तकनीक का अद्भुत मिश्रण है वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफी, कैमरे की नजर से प्रकृति को देखने की जानी तकनीक

– डीआईजी/ एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने छात्रों का उत्साहवर्धन किया
– अर्शप्रीत प्रथम, आयति को दूसरा और कृष्णा को तीसरा स्थान हासिल हुआ

प्रकृति के बीच छुपी खूबसूरती को कैमरे की नज़र से तलाश रहे छात्रों को तकनीकी रूप से दक्ष बनाने हेतु देवभूमि उत्तराखंड यूनिवर्सिटी में फोटोग्राफी कार्यशाला व वाइल्ड लाइफ प्रदर्शनी का आयोजन किया गया, जिसमें जाने माने वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर राजू पुशोला ने फोटोग्राफी के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की। वहीं मुख्य अतिथि डीआईजी/ एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने छात्रों का उत्साहवर्धन किया।

मंगलवार को मांडूवाला स्थित देवभूमि उत्तराखंड यूनिवर्सिटी में स्कूल ऑफ़ जर्नलिज्म एंड लिबरल आर्ट्स द्वारा ‘इनटू द नेचर’ फोटोग्राफी कार्यशाला व प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। इस दौरान मुख्य अतिथि डीआईजी एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने कार्यशाला का उदघाटन करते हुए कहा कि कोई भी फोटो बेहतरीन तब बनती है जब वो कुछ बयान करती है और ये तभी संभव है जब कैमरे के विभिन्न तकनीकी पहलुओं पर फोटोग्राफर की सोच और काम के जूनून का रंग चढ़ता है। एक क्रिएटिव सोच ही फोटो को बेहतरीन बनाती है।

इस दौरान जाने माने वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर व विशिष्ट अतिथि राजू पुशोला द्वारा खींचे गए वाइल्ड लाइफ चित्रों को प्रदर्शित किया गया। इस अवसर पर राजू पुशोला ने छात्रों की विभिन्न शंकाओं का निवारण किया और कहा कि वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफी धैर्य और तकनीक का अद्भुत मिश्रण है, जिसे फोटोग्राफर की कल्पनाशीलता एक नयी दिशा प्रदान करती है और यही कल्पनाशीलता फोटोग्राफी के हर क्षेत्र में काम आती है, इसलिए सर्वप्रथम हमें अपनी सोच विकसित करनी होगी।

विश्वविद्यालय कुलपति प्रोफ़ेसर डॉ प्रीति कोठियाल ने मुख्य व विशिष्ट अतिथियों को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि छात्रों को अपने हुनर को अपने सुनहरे भविष्य का जरिया बनाना चाहिए। फोटोग्राफी भी उसमें एक बेहतरीन करियर ऑप्शन हो सकता है। कार्यशाला के दौरान छात्रों के लिए फोटोग्राफी प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया, जिसमें अर्शप्रीत सिंह ने प्रथम, आयति उपाध्याय ने द्वितीय और कृष्णा जाधव ने तृतीय स्थान हासिल किया।

जबकि नेहा पल को सर्वश्रेष्ठ नेचर फोटोग्राफी और आदित्य दहिया को सर्वश्रेष्ठ वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफी का खिताब हासिल हुआ।  इस दौरान रजिस्ट्रार डॉ पंकज राणा, डीएए डॉ संदीप शर्मा, चीफ लायजनिंग ऑफ़िसर बीके कॉल, डीन स्कूल ऑफ़ जर्नलिज्म एंड लिबरल आर्ट्स प्रो दीपा आर्या सहित विभिन्न गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

नशा कर्म का हो ड्रग्स का नहीं – डीआईजी कुंवर

देवभूमि उत्तराखंड यूनिवर्सिटी में आयोजित फोटोग्राफी कार्यशाला एवं प्रदर्शनी के दौरान मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित डीआईजी/ एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने ड्रग्स के विरुद्ध छात्रों को जागरूक किया। साथ ही, सभी छात्रों को नशे के विरुद्ध शपथ दिलाई और कहा कि छात्रों को नशा अपने काम के प्रति होना चाहिए ड्रग्स का नहीं।  क्योंकि ये ड्रग्स छात्रों सहित उनके परिवार की ज़िन्दगी भी तबाह कर रहे हैं। उन्होंने छात्रों को शपथ दिलाई कि ड्रग्स का सेवन करने वालों व ड्रग्स उपलब्ध कराने वालों की सूचना पुलिस को देंगे।  ड्रग्स के विरुद्ध जनता को जागरूक करेंगे और किसी भी तरह की नशाखोरी के विरुद्ध अपनी आवाज़ बुलंद करेंगे।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!