23.2 C
Dehradun
Monday, November 28, 2022
Homeखेलटी20 वर्ल्ड कप : भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच अहम मुकाबला...

टी20 वर्ल्ड कप : भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच अहम मुकाबला आज

T20 World Cup: टी20 वर्ल्ड कप में आज रविवार को भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच सुपर-12 राउंड के ग्रुप-2 का एक अहम मुकाबला खेला जाएगा। यह मैच दोनों टीमों के लिए अहम हैं और इसको जीतने वाली टीम ग्रुप-2 में पहले स्थान के लिए अपने दावा मजबूत कर लेगी।

भारत फिलहाल दो मैचों में दो जीत और चार अंकों के साथ अपने ग्रुप में पहले स्थान पर है। वहीं, दक्षिण अफ्रीका की टीम तीन अंकों के साथ दूसरे स्थान पर है। दक्षिण अफ्रीका का पहला मैच बारिश से धुल गया था, जबकि दूसरे मैच में उन्होंने बांग्लादेश को करारी शिकस्त दी थी।

नेट रन रेट में दक्षिण अफ्रीका की टीम भारत से कहीं आगे है। उसका नेट रन रेट +5.200 है, जबकि भारत का नेट रन रेट +1.425 है। जिम्बाब्वे की टीम भी तीन अंकों के साथ तीसरे स्थान पर है। पाकिस्तान के लिए भी यह मुकाबला काफी अहम रहेगा, क्योंकि दक्षिण अफ्रीका के जीतने पर उसके सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें कम हो जाएंगी। पाकिस्तान की टीम दो मैचों में दो हार के साथ पांचवें स्थान पर है।

दोनों टीमों के बीच आंकड़े की बात करें तो टी20 में भारत और दक्षिण अफ्रीका 23 बार आमने-सामने आ चुके हैं। इसमें से 13 मुकाबलों में टीम इंडिया ने जीत हासिल की। वहीं, नौ मैचों में दक्षिण अफ्रीका की टीम जीती। एक मैच बेनतीजा रहा है।

न्यूट्रल वेन्यू पर दोनों टीमें

वहीं, न्यूट्रल वेन्यू पर दोनों टीमें इस फॉर्मेट में चार बार आमने-सामने आ चुकी हैं। तीन मैच भारत और एक मैच दक्षिण अफ्रीका ने जीता। टी20 वर्ल्ड कप में दोनों टीमें पांच बार आमने-सामने आ चुकी हैं। इसमें से चार मैच भारत ने और एक मैच दक्षिण अफ्रीका ने जीता।

भारत और दक्षिण अफ्रीका 2007, 2009, 2010, 2012 और 2014 टी20 वर्ल्ड कप में आमने-सामने आ चुकी हैं। 2014 के बाद से दोनों टीमों का इस टूर्नामेंट में आमना-सामना नहीं हुआ है। ऐसे में यह मुकाबला दिलचस्प रहने वाला है। भारतीय टीम टी20 वर्ल्ड कप में दक्षिण अफ्रीका से सिर्फ 2009 के संस्करण में हारी थी। तब दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 12 रन से हराया था। वहीं, 2007 में भारत ने अफ्रीका को 37 रन, 2010 में 14 रन, 2012 में एक रन और 2014 में छह वकेट से हराया था। भारतीय फैन्स एक बार फिर टीम इंडिया की जीत की उम्मीद लगाए बैठे होंगे।

टीम की बात करें तो ऑन पेपर भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका से मजबूत दिखती है। यह मुकाबला पर्थ के मैदान पर होगा, जहां तेज गेंदबाजों को काफी स्विंग मिलती है। ऐसे में यह मुकाबला भारत के बल्लेबाजों और दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाजों के बीच रहेगा। यह देखने वाली बात होगी कि कगिसो रबाडा, एनरिक नॉर्त्जे और वेन पार्नेल की पेस बैटरी का रोहित शर्मा, केएल राहुल, विराट कोहली और सूर्यकुमार यादव से सजी भारतीय बैटिंग लाइन अप किस प्रकार सामना करती है।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच हाल ही में तीन मैचों की टी20 सीरीज भी खेली गई थी, जिसे टीम इंडिया ने 2-1 से अपने नाम किया था। दक्षिण अफ्रीका की टीम इस विश्व कप में आने से पहले वह आखिरी टीम है, जिसने भारत को टी20 में हराया है। ऐसे में उनका आत्मविश्वास काफी बढ़ा होगा।

भारत ने किसी भी टीम के खिलाफ अपने पिछले पांच टी20 मैचों में से चार में जीत हासिल की है, जबकि एक में हार का सामना करना पड़ा है। वहीं, दक्षिण अफ्रीका ने पिछले पांच टी20 में से तीन जीते हैं और दो में उसे हार का सामना करना पड़ा है।

प्लेइंग-11 की बात करें तो भारतीय टीम इस मुकाबले में बिना किसी बदलाव के मैदान में उतर सकती है। शनिवार को बैटिंग कोच विक्रम राठौड़ ने इसके संकेत भी दिए। खराब फॉर्म में चल रहे केएल राहुल को एक और मौका दिया जा सकता है।

पाकिस्तान के खिलाफ राहुल चार रन और नीदरलैंड के खिलाफ नौ रन बना सके थे। वह कप्तान रोहित के साथ मिलकर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टीम इंडिया को अच्छी शुरुआत दिलाना चाहेंगे। हालांकि, शुरुआत में ही इन दोनों का सामना रबाडा और नॉर्त्जे की पेस से होगा।

भारत के मध्यक्रम को संभालने की जिम्मेदारी एकबार फिर विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव और हार्दिक पांड्या के मजबूत कंधों पर होगी। कोहली इस टूर्नामेंट में शानदार फॉर्म में हैं और उन्होंने दो मैचों में नाबाद 42 (पाकिस्तान) और नाबाद 62 रन (नीदरलैंड) की पारियां खेली हैं।

कोहली ने दोनों मैच में शुरू में समय लेकर मैदान पर जमने की कोशिश की और फिर बाद में गेंदबाजों की खूब धुनाई की। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भी वह इसी रोल में दिखेंगे। भारत को क्विंटन डिकॉक, राइली रूसो, एडेन मार्करम और डेविड मिलर से सतर्क रहना होगा।

दोनों टीमों की संभावित प्लेइंग-11

  • भारत: केएल राहुल, रोहित शर्मा (कप्तान), विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, अक्षर पटेल, हार्दिक पांड्या, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), आर अश्विन, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, अर्शदीप सिंह।
  • दक्षिण अफ्रीका: क्विंटन डिकॉक (विकेटकीपर), तेम्बा बावुमा (कप्तान), राइली रूसो, एडेन मार्करम, डेविड मिलर, ट्रिस्टन स्टब्स, वेन पार्नेल/मार्को यानसेन, केशव महाराज, एनरिक नॉर्त्जे, लुंगी एनगिडी/तबरेज शम्सी, कगिसो रबाडा।
RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!