11.3 C
Dehradun
Monday, April 22, 2024
Homeहमारा उत्तराखण्डपटवारी भर्ती परीक्षा प्रश्नपत्र लीक प्रकरण : आखिरकार एसआईटी के हत्थे चढ़ा...

पटवारी भर्ती परीक्षा प्रश्नपत्र लीक प्रकरण : आखिरकार एसआईटी के हत्थे चढ़ा 50 हजार का ईनामी आरोपी

पटवारी भर्ती परीक्षा के प्रश्नपत्र लीक प्रकरण में फरार 50 हजार का इनामी आरोपी डेविड आखिरकार एसआईटी के हत्थे चढ़ गया। आरोपी ने अभ्यर्थियों से लाखों रुपये की रकम वसूलकर रिजॉर्ट में पेपर रटवाने में भूमिका निभाई थी। वन दारोगा भर्ती पेपर लीक प्रकरण में भी आरोपी वर्ष 2021 में जेल जा चुका है।

जेई भर्ती परीक्षा में भी अभ्यर्थियों से लाखों रुपये की रकम वसूली थी। एसआईटी ने आरोपी को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया है। एसटीएफ ने पटवारी पेपर लीक का खुलासा करते हुए अनुभाग अधिकारी संजीव चतुर्वेदी, उसकी पत्नी रितु सहित सात आरोपियों को गिरफ्तार किया था। एसआईटी ने जांच संभालने के बाद गिरफ्तारियां शुरू की। इस प्रकरण में 15 आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके थे।

आरोपी डेविड निवासी बाकरपुर लक्सर हाथ नहीं लग पाया था। लगातार फरार चल रहे आरोपी पर पहले 25 और फिर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था। एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि आरोपी डेविड को रविवार की शाम भगवानपुर क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी खिलाफ न्यायालय स्पेशल जज सतर्कता देहरादून की ओर से गिरफ्तारी का अधिपत्र जारी किया गया था।

आईजी गढ़वाल करण सिंह नगन्याल की तरफ से 50 हजार का इनाम घोषित किया गया था। एसएसपी ने बताया कि आरोपी ने अपने साथियों के साथ मिलकर अभ्यर्थियों से लाखों रुपये वसूलते हुए शैक्षिक दस्तावेज लेकर बिहारीगढ़ स्थित रिजॉर्ट में पेपर रटवाया था। आरोपी को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है।

जेई पेपर लीक में भी भूमिका
एसएसपी अजय सिंह के मुताबिक, आरोपी डेविड ने जेई भर्ती परीक्षा में भी अभ्यर्थियों से लाखों रुपये की रकम वसूली थी, जबकि प्रश्नपत्र लीक के षड्यंत्र में भी शामिल रहा। वन दरोगा भर्ती पेपर लीक प्रकरण में भी आरोपी ब्लूटूथ से नकल कराने के मामले में जेल जा चुका है। नौकरी के नाम पर ठगी कर पैसे हड़पने के लक्सर कोतवाली में दर्ज मामले में भी डेविड फरार है।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!