11.3 C
Dehradun
Tuesday, February 27, 2024
Homeहमारा उत्तराखण्डउत्तराखंड विधानसभा मानसून सत्र : डेंगू पर चर्चा, बाहर विपक्ष का धरना...

उत्तराखंड विधानसभा मानसून सत्र : डेंगू पर चर्चा, बाहर विपक्ष का धरना प्रदर्शन

Uttarakhand Assembly Monsoon Session: उत्तराखंड विधानसभा का मानसून सत्र मंगलवार से शुरू हुआ। पहले दिन सीएम धामी समेत सदन में मौजूद सभी सदस्यों ने पूर्व कैबिनेट मंत्री चंदन राम दास के निधन पर शोक व्यक्त कर श्रद्धांजलि दी। आज सत्र के दूसरे अनुपूरक बजट पेश किया जाएगा।

आज दूसरे दिन विधानसभा सत्र शुरू हो गया है। इस दौरान डेंगू के बढ़ते मामलों को लेकर चर्चा की जा रही है। डेंगू से अब तक प्रदेश में पांच लोगों की मौत हो चुकी है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के विधानसभा में प्रवेश करते ही विपक्षी विधायकों ने अपनी मांगों के समर्थन में जमकर नारे लगाने शुरू कर दिए। कांग्रेस विधायक अनुपम रावत वन गुर्जरों को अधिकार देने की मांग कर रही हैं। अपनी इसी मांग को लेकर वह विधानसभा की सीढ़िया पर धरने पर बैठ गई हैं।

विपक्ष की अतिक्रमण अभियान, आपदा, महिला सुरक्षा, बेरोजगारी समेत कई मुद्दों पर सरकार को घेरने की रणनीति है। जबकि सरकार सदन में करीब 11100 करोड़ का अनुपूरक बजट पेश करेगी। इसके अलावा सदन में राज्य आंदोलनकारियों के 10 प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण समेत एक दर्जन विधेयकों को भी रखा जा सकता है।  

प्रदेश सरकार की ओर से आज अनुपूरक बजट पेश करने के साथ ही राज्य आंदोलनकारियों को 10 प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण समेत अन्य विधेयक, वित्त विभाग की वार्षिक ऑडिट रिपोर्ट, लेखा प्रत्यावेदन रिपोर्ट को सदन में पेश किया जाएगा। आज प्रश्न काल भी होगा।

जन्माष्टमी पर्व को देखते हुए माना जा रहा है बजट पारित करने के लिए सत्र देर रात तक चल सकता है। हालांकि कार्यमंत्रणा समिति की बैठक में सत्र को आठ सितंबर चलाने का एजेंडा तय हुआ है। उधर, विपक्ष सत्र की अवधि बढ़ाने की मांग कर रहा है।

विधानसभा सत्र का आज बुधवार को दूसरा दिन है। गन्ना किसानों को ब्याज मुक्त ऋण देने की मांग को लेकर निर्दलीय विधायक उमेश कुमार ट्रैक्टर लेकर विधानसभा पहुंचे। सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें विधानसभा के मुख्य गेट पर रोक लिया।

सत्र के आज बुधवार को ही संपन्न होने की चर्चा है। माना जा रहा है कि आज सरकार अनुपूरक बजट पेश करने के साथ ही इसी दिन पारित कर सकती है। 7 सितंबर को जन्माष्टमी पर्व पर सार्वजनिक अवकाश है। मंत्री, विधायक भी जन्माष्टमी अपने-अपने क्षेत्रों में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में शामिल होंगे।

प्रदेश सरकार ने 8 सितंबर तक विधानसभा सत्र घोषित किया है। सत्र का पहला दिन दिवंगत विधायकों के निधन पर शोक संवेदना में चला गया। 6 सितंबर को सदन में अनुपूरक बजट के साथ ही अध्यादेशों और अन्य विधेयकों को पेश किया जाएगा। विधानसभा के गलियारों में बुधवार को सत्र संपन्न होने की चर्चाएं थीं।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!