14 C
Dehradun
Monday, December 6, 2021
Homeहमारा उत्तराखण्डदेवभूमि के लिए बुरी खबरः आतंकियों से मुठभेड़ में उत्तराखण्ड के दो...

देवभूमि के लिए बुरी खबरः आतंकियों से मुठभेड़ में उत्तराखण्ड के दो जवान शहीद

उत्तराखण्ड के लिए आज फिर बुरी खबर है। जम्मू-कश्मीर के पुंछ में आतंकवादियों से हुई मुठभेड़ में घायल हुए टिहरी निवासी सूबेदार अजय रौतेला और पौड़ी निवासी नायक हरेंद्र सिंह की शहादत की खबर मिल रही है।

बताया जा रहा है कि सूबेदार अजय रौतेला और नायक हरेंद्र सिंह भी सेना के उस सर्च ऑपरेशन में शामिल थे, जिसमें गुरुवार को उत्तराखंड के दो जवान शहीद हो गए थे। इस दौरान वह घायल हो गए थे और लापता हो गए थे।

नरेंद्रनगर ब्लाक के खाड़ी-रामपुर गांव निवासी सूबेदार अजय रौतेला पुत्र स्व. अब्बल सिंह रौतेला और लैंसडोन के नायक हरेंद्र सिंह आतंकियों से हुई मुठभेड़ में शहीद हो गए हैं। मेंढर तहसील में भाटादूड़ियां के नाड़ खास जंगल से शनिवार शाम को शहीद सूबेदार (जेसीओ) अजय सिंह और हरेंद्र सिंह का शव निकाल लिया गया।

सैन्य प्रवक्ता ने बताया कि 14 अक्तूबर को आतंकियों से भाटादूड़ियां के नाड़ खास जंगल में आतंकियों के साथ मुठभेड़ हुई थी। सूबेदार अजय सिंह और हरेंद्र सिंह से संपर्क टूट गया था। इसके बाद से उनकी तलाश की जा रही थी। आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन के बीच शनिवार की शाम को उनके शव बरामद कर लिए गए हैं।

देश के लिए टिहरी का एक और लाल हुआ कुर्बान

नई टिहरी/नरेंद्रनगर। जम्मू कश्मीर के पूँछ में टिहरी के एक और सैनिक के शहीद हुआ है। रविवार को शहीद के पार्थिव शरीर के टिहरी पंहुचने की उम्मीद है।
जानकारी के अनुसार नरेंद्रनगर ब्लॉक के रामपुर गांव निवासी सूबेदार अजय रौतेला पुत्र स्व. अब्बल सिंह रौतेला आतंकियों से मुठभेड़ में बीते दिनों घायल हुए थे। उनके गांव के आसपास के सैनिकों ने रौतेला के परिजनों को सूचना दी है कि उनकी शहादत हो गई है। सूचना पर उनके परिजन देहरादून से गांव रामपुर पंहुच गए हैं। उनके चाचा हरपाल रौतेला ने बताया कि उन्हें सेना और प्रशासन देर रात को आधिकारिक सूचना मिली है। हालांकि गांव के आसपास के सैनिक जो जम्मू कश्मीर में तैनात हैं। उन्होंने बताया कि रौतेला ऑपरेशन में शहीद हो गए हैं। उनके तीन बेटे और पत्नी है। जो गांव में ही हैं। पत्नी विमला देवी, जुड़वां पुत्र सुमित और अमित के रोरोकर बुरा हाल है। बड़ा बेटा अरुण रौतेला देहरादून में है। उनके भाई दीपक रौतेला ने बताया कि अजय रौतेला (46) 17 गढ़वाल राइफल में थे और वर्तमान में आरआर48(राष्ट्रीय राइफल) में जम्मू कश्मीर में तैनात थे। 12 सितम्बर को ही उनके भाई अजय छुट्टी बिताकर जम्मू कश्मीर गए थे। बताया कि 2 साल बाद उनका रिटायरमेंट निर्धारित था।
कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा कि रामपुर निवासी सूबेदार अजय रौतेला के मिसिंग की सूचना मिली है। आर्मी हेडक्वार्टर से संपर्क साधा जा रहा है। डीएम इवा आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि देर रात को सेना की ओर से सूबेदार अजय रौतेला के शहीद होने की सूचना मिली है।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!