11.3 C
Dehradun
Wednesday, April 17, 2024
Homeहमारा उत्तराखण्डशिक्षक दिवस : तकनीकी विश्वविद्यालय में शिक्षकों को बेस्ट टिचर्स, बेस्ट रिसर्चर...

शिक्षक दिवस : तकनीकी विश्वविद्यालय में शिक्षकों को बेस्ट टिचर्स, बेस्ट रिसर्चर अवार्ड से किया गया सम्मानित

वीर माधो सिंह भंडारी उत्तराखण्ड तकनीकी विश्वविद्यालय द्वारा विश्वविद्यालय के परिसर एवं सम्बद्ध संस्थानों के शिक्षकों के उत्साहवर्धन तथा उत्कृष्ट शोध करने वाले शिक्षकों को “बेस्ट रिसर्चर अवार्ड” एवं “बेस्ट टिचर्स अवार्ड’ से सम्मानित किया गया। इस कार्यक्रम में प्रदेश के तकनीकी शिक्षा मंत्री सुबोध उनियाल मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहें । वार्षिक आधार पर दिये जाने वाले इन पुरुस्कारों को शिक्षक दिवस के अवसर पर प्रदेश के तकनीकी शिक्षा मंत्री सुबोध उनियाल व विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो० ओंकार सिंह द्वारा वितरित किये गये। इस अवसर पर छात्र / छात्राओं ने शिक्षकों के सम्मान में सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये।

इस कार्यक्रम के जरिये डॉ0 विनय कुमार पटेल को बेस्ट रिसर्चर अवार्ड से सम्मानित किया गया वहीं श्री अखलेश सिंह, डॉ० राजेन्द्र कुमार भारती, डॉ० आशीष बगवारी, सुश्री हिमांशी राठोर, डॉ० कपील कालरा को बेस्ट टिचर्स अवार्ड से सम्मानित किया गया।

प्रदेश के तकनीकी शिक्षा मंत्री सुबोध उनियाल ने अपने उद्बोधन में शिक्षक दिवस के अवसर पर सभी गुरूजनों को बधाई देते हुए कहा कि छात्रों को हमेशा अपने शिक्षक का सम्मान करना चाहिए वहीं शिक्षक को भी शिक्षक की गरिमा बनाये रखनी चाहिए, आज हमारा देश दुनिया में एक शक्तिशाली देश के रूप में खड़ा हो रहा है जो शिक्षकों के देश व समाज के प्रति दिये गये योगदान से ही सम्भव हो रहा है। इस दौरान श्री उनियाल ने बताया कि यह अवार्ड सेरेमनी आगे भी इस प्रकार के कार्यक्रमों को आयोजित करने के लिए शिक्षकों को प्रोत्साहित करती रहेगी।

इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो० ओंकार सिंह ने बताया कि शिक्षकों को इस बात का गर्व होना चाहिए कि आप इस समाज को शिक्षा देने का कार्य कर रहे है। जीवन में हमें औपचारिक रूप में मिलने वाले गुरूओं का आभार व्यक्त करने के साथ-साथ उन सभी गुरूओं का भी आभार व्यक्त करना चाहिए जो समय-समय पर अनौपचारिक रूप से हमें कदम-कदम पर राह दिखाते रहे है। प्रो० ओंकार सिंह ने कहा कि विश्वविद्यालय लगातार अपने शिक्षा के क्षेत्र में बदलाव कर रहा है, जिससे आने वाले समय में यह विश्वविद्यालय डिजीटली पॉवरड यूनिवर्सिटी के रूप में उभरेगा। यह विश्वविद्यालय शैक्षिक कार्यो को समय से पूरा करने वाला प्रथम विश्वविद्यालय है। प्रो० सिंह ने अपने उद्बोधन में सभी संस्थानों में कार्य करने वाले शिक्षकों से आवाह्न किया कि वें अपने शैक्षिक कार्यो के प्रति जिम्मेदारी को पूर्ण निष्ठा से पूर्ण करें।

कार्यक्रम में तकनीकी शिक्षा मंत्री सुबोध उनियाल, कुलपति प्रो० ओंकार सिंह, वित्त नियंत्रक बिक्रम सिंह जंतवाल, परीक्षा नियंत्रक डॉ० वी०के० पटेल, डॉ० मनोज पांडा, डॉ० विशाल रमोला, संस्थानों से आये शिक्षकगण, छात्र-छात्राएं आदि उपस्थित रहे ।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!