11.3 C
Dehradun
Tuesday, April 16, 2024
Homeहमारा उत्तराखण्डएसटीएफ ने कुख्यात ईनामी को बिहार-झारखण्ड के नक्सली सीमावर्ती क्षेत्र से किया...

एसटीएफ ने कुख्यात ईनामी को बिहार-झारखण्ड के नक्सली सीमावर्ती क्षेत्र से किया गिरफ्तार


🔸 हरिद्वार चीता पुलिस के दो जवानो को गोली मार कर भागने वाले इस कुख्यात की गिरफ्तारी पर एक लाख रूपये का इनाम था, घोषीत ।
🔸 थाना लक्सर हरिद्वार क्षेत्र में एक सुनार को लूटने के दौरान चीता पुलिस से हुयी मुठभेड़ में पकड़े गये इनामी अपराधी ने किये थे कई राउण्ड फायर, जिसमें चीता पुलिस के दो जवान हो गये थे घायल।
🔸 सहारनपुर से जिला बदर अपराधी है फुरकान, जो कि रह चुका है मुकीम काला गैंग का सक्रिय सदस्य ।
🔸 एसटीएफ की गिरफ्त में आने से बचने के लिये षातिर अभियुक्त द्वारा अपने आप को मरा घोशित दिखाने का किया था प्रयास।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुश अग्रवाल ने जानकारी देते हुये बताया कि जैसा कि उत्तराखण्ड के पुलिस महानिदेषक अशोक कुमार के द्वारा दिशा निर्देश दिये गये हैं कि उत्तराखण्ड में गैंगस्टर और कुख्यात ईनामी को हर हाल में गिरप्तार कर कड़ी कार्यवाही सुनिष्चित की जानी है, जिसके अनुपालन में उत्तराखण्ड एसटीएफ कुख्यातों की सूची बनाकर उनकी गिरप्तारी कर रही है। जिसके लिये एसटीएफ उत्तराखण्ड द्वारा प्रत्येक ईनामी और गैंगस्टर पर कार्ययोजना बनाकर कड़ी कार्यवाही की जा रही है। इसी कड़ी में अब तक 37 कुख्यात ईनामी अपराधी एसटीएफ द्वारा गिरपतार किये जा चुके हैं।
घटना का विवरण-
*वारिष्ट पुलिस अधीक्षक आयुश अग्रवाल द्वारा पकड़े गये एक लाख के ईनामी अपराधी के बारे में जानकारी देते हुये बताया कि दिनांकः 16.10.22 को जनपद हरिद्वार के क्षेत्र थाना लक्सर की चीता पुलिस के जवानो को सूचना प्राप्त हुई कि कुछ बदमाष लक्सर कस्बे के एकसुनार को लूट के ईरादे से आये हुये है और वे संदिग्ध व्यक्ति दुर्गा मन्दिर ओवर ब्रिज लक्सर के नीचे घूम रहे है।इस सूचना पर चीता पुलिस के दो जवानका0 सुरेन्द्र षर्मा व का0 पंचम को लक्सर वालावालीपुल के नीचे एक मोटर साईकिल में सवार तीन संदिग्ध व्यक्तियोंको देखकर उन्हें रोककर पूछताछ करने लगे तो वोअचानक चीता पुलिस पर फायर करते हुये भागने लगे, इस मुठभेड़ के दौरान इनमंे से एक बदमाष को का0 सुरेन्द्र षर्मा नेदबोच लिया था किन्तु उसके अन्य साथियों द्वारा फिर चीता पुलिस पर जान से मारने की नीयत से कई राउण्ड फायर कर दिये इस दौरान *कानि0 पंचम के पैर में गोली लग गयी* और वो पकड़ा गया व्यक्ति अपने साथियों के साथ भागने लगा, गोली चलाने वाले व्यक्ति का0 पंचम प्रकाश द्वारा लडखडाते हुये उसका पीछा कर रहा था इसी बीच वहीं मौके पर पहंुची थाना लक्सर की दूसरी चीता में तैनातकर्मचारी कानि0 सतेन्द्र व का0 राजेन्द्र ने अपनी मोटर साईकिल से कां0 पंचम प्रकाष के साथ तीनों बदमाषों को का पीछा करना षुरू किया तो तीनों बदमाषों द्वारा उक्त चीता कर्मियों पर भी जान से मारने की नीयत से फायर कर दिये जिसमें से एक गोली एक अन्य कानि0 राजेन्द्र सिंह पैर पर लग गयीतथा वह बदमाश पप्पू नर्सिंग होम के पास एक पीले रंग की अपाचे मोटर साईकिल पर सवार दो अन्य बदमाशो के साथ फायर करते हुये भाग गये।
यह घटना बहुत ही सनसनीखेज थी, जिसमें सभी अपराधियों को पकड़ा जाना आवष्यक था। इस घटना में पष्चिमी उत्तर प्रदेष के 05 बदमाषों की 1. षाबिर 2. अताउल खान 3. नौषाद 4. जावेद व फुरकान प्रकाष में आये। जिनमें से मोटर साईकिल व असलाह उपलब्ध कराने वाले दो अन्य व्यक्तियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। साथ ही हरिद्वार पुलिस द्वारा घटना में सम्मलित अपराधी नौषाद, अताउलखान व षाबिर को गिरफ्तार किया जा चुका था। मुख्य अपराधी फुरकान एवं जावेद घटना के बाद से फरार चल रहे थे।इसमें फुरकान बहुत ही षातिर बदमाष है इसके विरूद्ध कई राज्यों में संगीन आपराधिक मामले दर्ज हैं, इसी के द्वारा पुलिस चीता कर्मियों पर फायर किया गया था तथा लगातार फरार चल रहा था। जिसके गिरफ्तारी हेतु पुलिस मुख्यालय द्वारा 01 लाख रूपये का ईनाम घोशित किया गया था।
एसटीएफ की रणनीतिः- वरिश्ठ पुलिस अधीक्षक, एस0टी0एफ0 द्वारा इस अपराधी को पकड़ने के लिये एक सुगठित रणनीति बनाते हुये अपर पुलिस अधीक्षक एवं क्षेत्राधिकारी एस0टी0एफ0 के पर्यवेक्षण में टीम गठित की गयी जिनके द्वारा मैनुवली इस अपराधी के सम्बन्ध में सूचनाओं को संकलित करना षुरू किया तथा टीम विगत 03 माह से उक्त अपराधियेां की गिरफ्तारी के लिये प्रयासरत थी व हरियाणा, पष्चिम उत्तर प्रदेष, दिल्ली, राजस्थान आदि पर दबिष दी जा रही थी। अपराधियों द्वारा किसी भी मोबाईल आदि का प्रयोग नही किया जा रहा था ना ही अपने घर/रिष्तेदारो/जान पहचान वालो से किसी भी प्रकार से सम्पर्क किया जा रहा था। इस पर एसटीएफ की टीम द्वारा मैनुवल पुलिसिंग अपनाते हुये अपने मुखबिर लगाये गये। इसी क्रम में कुछ दिन पूर्व टीम को सूचना प्राप्त हुई कि फुरकान बिहार में किसी जगह पर रह रहा है। टीम विगत 10 दिन पूर्व बिहार के भागलपुर जनपद में सूचना एकत्रित करने पहुॅची जिस पर टीम द्वारा उसके सम्भावित ठिकानो की जानकारी की गई व गोपनीय तरीके से बिहार व झारखण्ड के बार्डर के पीरपैंती कस्बे में ठिकानो की निगरानी की गई लगातार 08 दिनो तक निगरानी करने एवं पुलिस द्वारा भेश बदलकर डिलीवरी बाय/ मजदूर आदि बनकर इन घरो पर नजर रखी जा रही थी परिणाम स्वरूप एक घर चिन्ह्ति हुआ जिसमें अपराधी फुरकान का रहना पता चला। स्थानीय पुलिस की सहायता से उक्त घर को रात के समय घेर कर दबिष दी गई तो अभियुक्त फुरकान घर की छत पर सो रहा था जैसे ही पुलिस का आभास हुआ भागने लगा लेकिन पुलिस टीम द्वारा पीछा कर पकड लिया लेकिन उक्त अपराधी द्वारा पुलिस से भागने की कोषिष की गई लेकिन पुलिस टीम द्वारा कुछ देर बाद उस पर काबू कर गिरफ्तार किया गया एंव दिनाॅक 02.07.2023 को माननीय न्यायिक मजिस्ट्रेट भागलपुर के समक्ष पेष कर 06 दिवस ट्रान्जिट रिमान्ड लिया गया।
विषेश-इस बदमाष को पकड़ने के लिये एसटीएफ द्वारा विगत माह में कुछ समय के लिये हरिद्वार सहारनपुर में डेरा डाले हुये था। जैसे ही इस अपराधी को अपने गिरप्तारी के लिये एसटीएफ के आने की सूचना मिली तो इस षातिर अपराधी फुरकान द्वारा पुलिस की गिरफ्तारी से बचने के लिये अपने आप को गंगनहर कलियर के पास अपने कपडे व मोबाईल रखकर अपने रिष्तेदारों को अपने डूबकर आत्महत्या करने की बात कहने की सूचना दी गई।जिससे पुलिस उसे मरा हुआ समझकर उसका पीछा करना छोड दे। इस पर इस बदमाष की पत्नी द्वारा रामपुर मनिहारन में जाकर अपने पति फुरकान की आत्महत्या की सूचना भी दी गयी थीं,लेकिन एसटीएफ ने तस्दीक लिया था इस बदमाष में पुलिस को चकमा देने की नियत से ये प्लान बनाया गया है और एसटीएफ इस बदमाष की मैनुवली जानकरी एकत्रित करने लगी क्योंकि इसके कोई भी परिजन फोन का इस्तेमाल करना बन्द कर दिया था।
गिरफ्तार अपराधी का नाम-

  1. फुरकान पुत्र षौकत निवासी लण्ढौरा गुर्जर, थाना रामपुर मनिहारन जनपद सहारनपुर।
    आपराधिक इतिहासः-
    उक्त अपराधी फुरकान पष्चिम उत्तर प्रदेष के कुख्यात गैंग मुकीम काला का सक्रिय सदस्य रहा है तथा सहारनपुर से जिला बदर घोशित है तथा पूर्व में कई बार पुलिस पर जानलेवा हमला कर चुका है। मुकीम काला की मृृत्यू के बाद अपना गैंग बनाकर लूट डकैती की आपराधिक घटनाओं को अन्जाम दे रहा था। वर्तमान तक की जानकारी में निम्न आपराधिक इतिहास प्रकाष में आया है।
  2. मु0अ0स0 282/16 धारा-379 भादवि थाना कैराना,जनपद शामली ।
  3. मु0अ0स0 692/19 धारा-392 भादविथाना कैराना, जनपद शामली ।
  4. मु0अ0स0 12/21 धारा-379 भादविथाना गढीपुख्ता, जनपद शामली ।
  5. मु0अ0स0 135/20धारा-342 भादविथाना गढीपुख्ता, जनपद शामली ।
  6. मु0अ0स0 1741/19 धारा-379 भादविथाना षामली, जनपद शामली ।
  7. मु0अ0स0 350/20 धारा-307 भादविपुलिस मुठभेड़ थाना थानाभवन, जनपद शामली ।
  8. मु0अ0स0 352/20 धारा-25 आम्र्स एक्टथाना थानाभवन, जनपद शामली ।
  9. मु0अ0स0 249/20 धारा-379 भादविथाना कान्धला, जनपद शामली ।
  10. मु0अ0स0 84/20 धारा-392 भादविथाना भगवानपुर, जनपद हरिद्वार।
  11. मु0अ0स0 05/13 धारा-379 भादविथाना सोनिपत, जनपद सोनीपत, हरियाणा।
  12. मु0अ0स0 171/20 धारा-2/3 गैंगस्टर एक्टथाना रामपुर मनिहारन, सहारनपुर।
  13. मु0अ0स0 283/19 धारा-307 भादविपुलिस मुठभेड़ थाना रामपुर मनिहारन, सहारनपुर।
  14. मु0अ0स0 780/17 धारा-379 भादविथाना देवबन्द, सहारनपुर।
  15. मु0अ0स0 134/21 धारा-379 भादवि थाना नानौता, सहारनपुर।
  16. मु0अ0स0 245/22 धारा-379 भादवि थाना नानौता, सहारनपुर।
  17. मु0अ0स0 31/20 धारा-379 भादवि थाना रामपुर मनिहारन, सहारनपुर।
  18. मु0अ0स0 141/19 धारा-379 भादवि थाना रामपुर मनिहारन, सहारनपुर।
  19. मु0अ0स0 274/16 धारा-379 भादवि थाना रामपुर मनिहारन, सहारनपुर।
  20. मु0अ0स0 991/22 धारा-392/307 भादवि थाना लक्सर, हरिद्वार।

पुलिस टीमः-

  1. नि0 अबूल कलाम
  2. उ0नि0 याजवेन्द्र बाजवा
  3. उ0नि0 दिलबर नेगी
  4. उ0नि0 विघादत्त जोषी
  5. अ0उ0नि0 प्रदीप चैहान
  6. हे0का0 बृृजेन्द्र चैहान
  7. हे0का0 सजॅय कुमार
  8. हे0का0 महेन्द्र सिंह नेगी
  9. का0 मोहन असवाल
RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!