29.8 C
Dehradun
Saturday, September 25, 2021
Homeहमारा उत्तराखण्डअफगानिस्तान से सकुशल वापस लौटे उत्तराखण्ड वासियों का मुख्यमंत्री ने किया स्वागत

अफगानिस्तान से सकुशल वापस लौटे उत्तराखण्ड वासियों का मुख्यमंत्री ने किया स्वागत

वापस लौटे उत्तराखण्ड वासियों ने मुख्यमंत्री का जताया आभार
अफगानिस्तान से सभी उत्तराखण्ड वासियों की सकुशल वापसी की मुख्यमंत्री ने जाहिर की प्रतिबद्धता
अफगानिस्तान से देश के लोगों की वतन वापसी के प्रयासों के लिये मुख्यमंत्री ने की प्रधानमंत्री के प्रयासों की सराहना- किया धन्यवाद ज्ञापित
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को सायं मुख्यमंत्री आवास स्थित कैम्प कार्यालय के जनता मिलन हॉल में अफगानिस्तान से सकुशल लौटे 56 उत्तराखण्ड वासियों का स्वागत किया।


मुख्यमंत्री ने कहा कि कठिन संघर्ष एवं जतन के बाद वतन वापस आने वालों का वे प्रदेश में स्वागत करते हैं। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान से उत्तराखण्ड वासियों की सकुशल वापसी के लिये वे निरंतर प्रयासरत रहे हैं। इस सम्बन्ध में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, विदेश मंत्री श्री एस. जयशंकर के साथ ही राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल का भी आभार व्यक्त करते हुए उनके सहायोग के लिये धन्यवाद भी ज्ञापित किया, उन्होंने कहा कि यह सब प्रधानमंत्री श्री मोदी के कुशल नेतृत्व के कारण संभव हो पाया।

प्रधानमंत्री श्री मोदी के कारण आज दुनिया में भारत का स्वाभिमान व इज्जत बढ़ी है। शक्तिशाली भारत की पहचान बनी है। देश के सक्षम एवं मजबूत लीडरशिप के कारण हमारे लोग विदेशों में सुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में फंसे लोगों को सकुशल वापसी के प्रयास जारी रहेंगे।


मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड के लोगों को दिल्ली से उनके घरों तक वापस लाने के लिये आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिये स्थानिक आयुक्त को भी निर्देश दिये गये हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी तक 400 से अधिक लोगों की उत्तराखण्ड वापसी हो चुकी है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड लौटे लोगों के स्वास्थ्य एवं स्वरोजगार की समस्याओं के समाधान का भी रास्ता तलाशा जायेगा।

उन्होंने इस अवसर पर उपस्थित 56 लोगों के साथ ही सभी वापस लौटे लोगों के सुखद भविष्य की भी कामना की।
इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि वे भी निरंतर अफगानिस्तान में फंसे लोगों के परिवार के सम्पर्क में रहे हैं। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड लौटे लोगों में से यदि कोई अपना उद्यम स्थापित करना चाहेगा तो उसके लिये सहयोग दिया जायेगा।


इस अवसर पर गोरखाली सुधार सभा के पदाधिकारियों ने गोरखा समाज की विभिन्न समस्याओं से सम्बन्धित ज्ञापन भी मुख्यमंत्री को सौंपा। इस अवसर पर विशेष सचिव मुख्यमंत्री डॉ पराग मधुकर धकाते, जिलाधिकारी श्री आर. राजेश कुमार, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. योगेनद्र सिंह रावत, संयोजक श्री चेतन गुरंग, केंट वार्ड के पूर्व उपाध्यक्ष श्री विष्णु गुप्ता, गोरखाली सुधार सभा की श्रीमती पुष्पा, श्रीमती सुधा, श्रीमती उमा के साथ ही बड़ी संख्या में अन्य लोग उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!