11.3 C
Dehradun
Wednesday, April 17, 2024
Homeहमारा उत्तराखण्डउत्तराखण्ड एसटीएफ का मिशन ईनामी अपराधी : पकड़ा गया कुख्यात अन्तर्राज्यीय गौ-तस्कर

उत्तराखण्ड एसटीएफ का मिशन ईनामी अपराधी : पकड़ा गया कुख्यात अन्तर्राज्यीय गौ-तस्कर

 

🔶 आरोपी पिछले 03 माह से फरार चल रहा था जिस पर 25000 रु.का ईनाम घोषित था

🔶 पुलिस कर्मियोें पर गाड़ी चढ़ाकर कुचलने का प्रयास करने वाला कुख्यात गौे-तस्कर अब आया एसटीएफ की गिरफ्त में

उत्तराखंड राज्य के पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार द्वारा राज्य के इनामी अपराधियों के विरुद्ध चलाए जा रहे गिरफ्तारी अभियान के तहत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल द्वारा उत्तराखंड में गैंगस्टर एवं इनामी अपराधियों के विरुद्ध कार्रवाई करने के निर्देश अपनी टीमों को दिए गए हैं। इसी क्रम में कल रात्रि सीओ एसटीएफ सुमित पांडे द्वारा प्रभारी निरीक्षक एमपी सिंह के नेतृत्व में गठित एसटीएफ टीम के द्वारा 03 दिन तक चले ऑपरेशन के बाद थाना पुलभट्टा, जनपद ऊधम सिंह नगर से फरार 25000 रुपये के ईनामी अपराधी युनुस पुत्र बुन्दन निवासी वार्ड न06 शेरगढ़ थाना शेरगढ़ जनपद बरेली उ0प्र0 को थाना शेरगढ़ क्षेत्र बरेली से गिरफ्तार किया है।* गिरफ्तार ईनामी अपराधी थाना पुलभट्टा से धारा 307 आईपीसी व गौकशी के मुकदमें में वाँछित चल रहा था।

घटना का विवरण-
वरिश्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुश अग्रवाल द्वारा जानकारी देते हुये बताया कि 13 अप्रैल 2023 को पुलभट्टा पुलिस द्वारा एक मुकदमा एफआईआर न0 75/23 धारा 307आईपीसी , 3/25 आर्म्स एक्ट व धारा 3/5/11(1) उ0गौकशी अधि0 के तहत पंजीकृत कराया गया था, जिसमें *अभियुक्त युनुस व उसके 3 साथियों के द्वारा 02 गाड़ियों से गौमांस की तस्करी की जा रही थी, जब पुलभट्टा पुलिस के द्वारा इन्हें शंकर फार्म कट के पास हाइवे में रोकने के प्रयास किया गया तो अभि0 गणों द्वारा पुलिस पार्टी पर जान से मारने की नीयत से गाड़ी चढ़ाने का प्रयास किया गया लेकिन पुलिस पार्टी बाल-बाल बच गयी, पुलिस द्वारा घेराबन्दी कर दोनों गाड़ियों को रोक लिया था जिसमें एक अभि0 अलीम मौके पर ही तंमचे के साथ पकड़ा गया था बाकी उसके तीन साथी मौके से भागने में कामयाब रहे थे।* पकड़े गये दोनों वाहनों से कुल 05 कुन्तल गौमांस बरामद हुआ था, तभी से अभि0 युनुस फरार चल रहा था, जिस पर *वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ऊधम सिंह नगर द्वारा 30 जून 2023 को 25000 रु0 का ईनाम घोषित किया था।* पिछले 03 माह में फरारी के दौरान अभि0 उत्तराखण्ड व यूपी के कई स्थानों छिपा रहा। एसटीएफ की इस कार्यवाही में उ0नि0 केजी मठपाल, मुख्य आरक्षी जगपाल सिंह व आरक्षी गुरवंत सिंह की विशेष भूमिका रही।
एसएसपी एसटीएफ आयुष अग्रवाल द्वारा यह भी बताया गया कि हमारी एक टीम विगत एक माह से इस शातिर ईनामी अपराधी युसुस पर काम कर रही थी जिसके ऊपर उ0प्र0 व उत्तराखण्ड में गौकशी व मारपीट के कई मुकदमें पंजीकृत हैं।* कल शाम टीम को एसटीएफ की इस ईनामी अपराधी के सम्बन्ध में गोपनीय जानकारी मिली कि यह शातिर अपराधी उत्तराखण्ड-यूपी बार्डर से लगे थाना शेरगढ़ क्षेत्र में ही कहीं पर रह रहा हैं इस सूचना पर एसटीएफ की टीम को शेरगढ़ क्षेत्र में भेजा गया तथा वहां पर मैनुवली इस अपराधी के बारे में जानकारी जुटाकर दिनाँक 4.07.23 की देर रात्रि में गिरप्तार किया गया है।
गौरतलब है कि उत्तराखण्ड एसटीएफ का मुख्य फोकस ईनामी अपराधियो की गिरप्तारी पर किये हुये है। जिसके लिये प्रत्येक कुख्यात ईनामी अपराधी पर एक अलग कार्ययोजना बनाकर उनकी धर पकड़ कर रही है, जिनकी गिरप्तारी के लिये एसटीएफ ने सम्पूर्ण भारत के लगभग सभी राज्यों में छापामारी की गयी है। जिसके परिणाम स्वरूप उत्तराखण्ड एसटीएफ द्वारा अब तक 38 ईनामी अपराधियों की गिरफ्तारी की जा चुकी है। जिनमें से 01-01 लाख रूपये के ईनामी 03 अपराधी भी शामिल हैं।

गिरफ्तार अभियुक्त का विवरण-
यूनुस पुत्र बद्दन निवासी वार्ड नंबर 6, थाना शेरगढ़ जनपद बरेली उत्तर प्रदेश उम्र 31 वर्ष।

अभियुक्त का अपराधिक इतिहास
1.मु0अ0सं0- 75/2022, धारा 307,34 भा0द0वि0 व 3,5,6,11,(1)(2) उत्तराखंड गोवंश संरक्षण अधिनियम थाना पुलभट्टा उधम सिंह नगर।
2. वर्ष 2011 में गोकशी का मुकदमा पंजीकृत थाना शेरगढ़, जनपद बरेली उत्तर प्रदेश।
3. वर्ष 2013 में मारपीट का मुकदमा पंजीकृत थाना शेरगढ़ जनपद बरेली उत्तर प्रदेश
अभियुक्त के अन्य मामलों की जानकारी की जा रही है।

गिरफ्तार करने वाली टीम-एसटीएफ कुमाऊं यूनिट
1. निरीक्षक एमपी सिंह
2. उ0नि0 केजी मठपाल
3. हे0का0 जगपाल सिंह
4. हे0का0 संजय कुमार
5. हे0का0 सुरेंद्र कनवाल
6. का0 गुरवंत सिंह
7.का0 राजेन्द्र सिंह मेहरा

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!