38.1 C
Dehradun
Saturday, May 28, 2022
Homeहमारा उत्तराखण्डदेहरादूनराष्ट्रीय विज्ञान सप्ताह में वैज्ञानिकों का ‘आयन’ शिक्षा पर ज़ोर

राष्ट्रीय विज्ञान सप्ताह में वैज्ञानिकों का ‘आयन’ शिक्षा पर ज़ोर

विज्ञान और तकनीकी के क्षेत्र में आये दिन नए बदलाव हो रहे हैं और इन्हीं बदलावों पर चर्चा करते हुए देवभूमि उत्तराखंड यूनिवर्सिटी में ‘राष्ट्रीय विज्ञान सप्ताह’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम में बोलते हुए मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित अंतर्विश्वविद्यालय त्वरक केंद्र से आये वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. पंकज कुमार ने कहा कि विज्ञान और तकनीकी के इस आधुनिक युग में आज जो सबसे महत्वपूर्ण वस्तु है, वो है आयन गतिवर्धक अर्थात आयन एक्सीलिरेटर्स।

बात चाहे भौतिक विज्ञान की हो, नाभिकीय भौतिक विज्ञान की हो, जीव विज्ञान, कृषि, खाद्य प्रसंस्करण, चिकित्सकीय, हर क्षेत्र में आयन एक्सीलिरेटर्स अत्यधिक महत्वपूर्ण साबित हो रहे हैं। यहाँ तक कि अनुसंधान और विकास को बढ़ावा देने के उद्देश्य से आयन बीम का इस्तेमाल बहुत तेज़ी से बढ़ गया है और विज्ञान के हर क्षेत्र में आयन बीम आसानी से सुलभ भी हो गए हैं।

यही कारण है कि पिछले दो दशकों के दौरान आयन बीम का उपयोग करते हुए अंतर्विषय अनुसंधान, संरचना, विद्युत, प्रकाश और विभिन्न सामग्रियों के चुम्बकीय गुणों में संशोधन किया जा रहा है और नयी खोजों का मार्ग प्रशस्त किया जा रहा है। इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि आयन गतिवर्धक अर्थात आयन एक्सीलिरेटर्स और आयन बीम आज के दौर में हमारी ज़िन्दगी का कितना महत्वपूर्ण हिस्सा बन चुके हैं।

कार्यक्रम का आयोजन देवभूमि उत्तराखंड विश्वविद्यालय के कुलाधिपति श्री संजय बंसल और उपकुलाधिपति श्री अमन बंसल की देखरेख में संपन्न हुआ। इस दौरान कुलपति प्रोफेसर प्रीति कोठियाल, उपकुलपति डॉ. आरके त्रिपाठी, डॉ. नेहा डोभाल, डॉ. संजीव किमोठी आदि अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!