Home हमारा उत्तराखण्ड 30 जून से कोरोनेशन अस्पताल में आईसीयू सुविधा

30 जून से कोरोनेशन अस्पताल में आईसीयू सुविधा

0
410

आईसीयू संचालन के लिये 10 स्टाफ नर्स होंगी दून अस्पताल से शिफ्ट

आईसीयू एवं आक्सीजन प्लांट संचालन हेतु सृजित होंगे पद

देहरादून, 22 जून 2022

आगामी 30 जून से दीन दयाल उपाध्याय कोरोनेशन जिला अस्पताल में आईसीयू सुविधा शुरू कर दी जायेगी। जिसके निर्देश विभागीय अधिकारियों को दे दिये गये हैं। आईसीयू संचालन के लिये दून अस्पताल से 10 स्टाफ नर्सों को कोरोनेशन अस्पताल में तैनात किया जायेगा। दून अस्पताल, कोरोनेशन जिला अस्पताल एवं गांधी शताब्दी नेत्र अस्पताल में वार्ड ब्वायों की कमी शीघ्र दूर की जायेगी। अस्पतालों में आईसीयू एवं अक्सीजन प्लांट के संचालन हेतु पद सृजित किये जायेंगे, इसके लिये अधिकारियों को प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजने के निर्देश दिये गये हैं।

चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ0 धन सिंह रावत ने आज शासकीय आवास में दीन दयाल उपाध्याय कोरोनेशन जिला अस्पताल, गांधी शताब्दी नेत्र अस्पताल एवं दून अस्पताल की समीक्षा बैठक की। डॉ0 रावत ने बताया कि आगामी 30 जून से कोरोनेशन जिला अस्पताल में आईसीयू सुविधा शुरू कर दी जायेगी। इसके लिये विभागीय अधिकारियों को निर्देश दे दिये गये हैं। उन्होंने कहा कि आईसीयू संचालन के लिये दून अस्पताल से 10 स्टाफ नर्सों को कोरोनेशन अस्पताल में तैनात किया जायेगा। इसके साथ आईसीयू में 10 वार्ड ब्वायों की शीघ्र तैनाती की जायेगी ताकि मरीजों को उपचार के दौरान किसी भी प्रकार की दिक्कत न हो। डॉ0 रावत ने बताया कि दून अस्पताल, कोरोनेशन अस्पताल एवं गांधी शताब्दी नेत्र अस्पताल में वार्ड ब्वायों की कमी शीघ्र दूर की जायेगी। विभागीय मंत्री ने बताया कि अस्पतालों में वार्ड ब्वॉय, आईसीयू एवं ऑक्सीजन प्लांट संचालन के लिये चतुर्थ श्रेणी के पद सृजित किये जायेंगे, इसके लिये विभागीय अधिकारियों को प्रस्ताव बनाकर कैबिनेट में लाने के निर्देश दिये गये हैं।

बैठक में अपर निदेशक चिकित्सा शिक्षा एवं प्राचार्य दून मेडिकल कॉलेज डॉ0 आशुतोष सयाना, मुख्य चिकित्साधिकारी देहरादून डॉ0 मनोज उप्रेती, सीएमएस दून अस्पताल डॉ0 के.सी.पंत, सीएमएस कोरोनेशन जिला अस्पताल डॉ0 शिखा जंगपांगी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

No comments

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

error: Content is protected !!