सीएम धामी ने किया कुमाऊं को जोड़ने वाले बहुप्रतीक्षित रानीबाग पुल का लोकार्पण, पुल के निर्माण से अब जाम की समस्या से मिलेगी निजात

0
323

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरूवार को जनपद नैनीताल में रुपए 7 करोड़ 17 लाख लागत से केंद्रीय सड़क निधि के अंतर्गत निर्मित रानीबाग भीमताल पदमपुरी लोहाघाट पंचेश्वर राज्यमार्ग टू-लेन ’ए’ क्लास लोडिंग स्टील गार्डर पुल का लोकार्पण किया।

इस अवसर पर केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट भी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने कहा कि टू लेन पुल के शुरू होने से अब अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, बागेश्वर, चंपावत और नैनीताल के पर्वतीय क्षेत्रों को जाने वाले लोगों को काफी आसानी होगी। उन्होंने कहा कि यह पुल कुमाऊँ की लाइफ लाइन है जिससे पूरे कुमाऊँ का कारोबार जुड़ा हुआ है।

अक्सर यहां पर सिंगल लेन पुल होने की वजह से जाम लगा करता था, लेकिन अब इस पुल के बनने से कुमाऊं के पर्वतीय इलाकों में जाने वाले सैलानियों को भी जाम की दिक्कत नहीं होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस पुल पर भारी वाहनों का आवागमन होने से क्षेत्र का आर्थिक एवं सामाजिक विकास के साथ-साथ क्षेत्र का चहुमुखी विकास होगा।

ज्ञातव्य है कि वर्तमान में उक्त पुराने पुल से लगभग 3600 कार व जीप 2500 दुपहिया वाहन, 2000 छोटे वाणिज्य वाहन एवं 150 बसें तथा 1750 ट्रक (दो एक्सेल) इत्यादि, औसतन 10,000 वाहनों का प्रतिदिन आवागमन होता है। उक्त टू लेन ए क्लास लोडिंग पुल के बन जाने से मल्टी एक्सेल ट्रकों एवं अन्य वाहनों के आवागमन में वृद्धि होगी।

लोकार्पण कार्यक्रम में जनपद प्रभारी मंत्री श्रीमती रेखा आर्या, क्षेत्रीय विधायक भीमताल राम सिंह कैड़ा, बंशीधर भगत, डॉ मोहन सिंह बिष्ट, जिला पंचायत अध्यक्ष बेला तोलिया, ब्लॉक प्रमुख कमलेश कैड़ा एवं अन्य गणमान्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

पुल के लोकार्पण के बाद सीएम ने की जनसभा सम्बोधित

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने महर्षि विद्या मंदिर, अमृतपुर हल्द्वानी में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार योजनाओं के शिलान्यास के साथ ही लोकार्पण के लिए भी संकल्पबद्ध है। इसी क्रम में आज रानीबाग पुल का लोकार्पण किया गया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जमरानी बांध परियोजना का कार्य भी जल्द ही शुरू किया जाएगा। इसके लिए केंद्र सरकार द्वारा सहमति दे दी गई है। भारत नेट योजना के तहत भारत सरकार द्वारा लगभग 1200 टावर 4 जी के लिए विभिन्न स्थलों पर स्वीकृत किये गए है। इस योजना के अंतर्गत लगभग 02 हजार गांवों को इंटरनेट से जोड़ा जा सकेगा, साथ ही एच एम टी की भूमि पर मिनी सिडकुल प्रस्तावित किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहाड़ी क्षेत्रों में सम्पर्क सुविधा में सुधार हेतु भारत सरकार की पर्वतमाला परियोजना के अंतर्गत रोपवे विकास कार्यक्रम का सर्वाधिक लाभ उत्तराखंड को मिलेगा जिसमें 40 प्रमुख स्थलों को जोड़ा जाएगा। इसके साथ ही पंतनगर हवाई अड्डे को अंतरराष्ट्रीय स्तर का बनाया जा रहा है जिसके बनने के बाद कुमाऊँ से भी दुनिया भर की उड़ान शुरू होगी। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में पलायन रोकथाम योजना प्रारम्भ की गई है जिसके तहत लोगों को स्वरोजगार से जोड़ा जा रहा है।

इसके साथ ही उत्तराखंडवासियों को स्वरोजगार के लिए ऋण हेतु अनावश्यक चक्कर न काटने पड़े, इसका भी समाधान किया जा रहा है। सरकार का प्रयास है कि उत्तराखंड की भौगोलिक विषमता के आधार पर योजना बनाई जाए, जिससे अधिकतम लोग योजना का लाभ उठा सके। इसके लिए नीति आयोग व क्षेत्रीय परिषद की बैठक में भी चर्चा हुई है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि राज्य में भर्तियों में जो भी घपले सामने आ रहे है उसमें सरकार किसी को भी बख्शने वाली नहीं है, दोषी चाहे कितना बड़ा भी हो उस पर कार्रवाई की जाएगी। इसी क्रम में 2015 की दरोगा भर्ती की जांच भी विजिलेंस को दी गई है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रानीबाग पुल निर्माण की कार्यदाई संस्था हिलवेज कंस्ट्रक्शन कंपनी के सभी इंजीनियर की तारीफ की. उन्होंने पुल निर्माण टीम में शामिल इंजीनियर स्वाति पंत को भी सम्मानित किया।

इस अवसर पर केंद्रीय रक्षा एवं पर्यटन राज्य मंत्री अजय भट्ट ने कहा कि अग्निपथ योजना में पहाड़ी युवाओं के लिए शारीरिक मापदण्ड (ऊंचाई व सीने) में कोई परिवर्तन नहीं किया गया है। पूर्व की भांति ही शारीरिक मापदण्ड की व्यवस्था की है।

कार्यक्रम में जनपद प्रभारी मंत्री एवं खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति, महिला सशक्तिकरण रेखा आर्या, अध्यक्ष जिला पंचायत बेला तोलिया, पूर्व मंत्री एवं विधायक बंशीधर भगत, विधायक राम सिंह कैडा, डा0 मोहन बिष्ट, वन विकास निगम अध्यक्ष कैलाश गहतोड़ी, मेयर डा0 जोगेन्दर पाल सिह रौतेला, जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट के साथ ही जनपदीय अधिकारियों के साथ क्षेत्रीय जनता एवं गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here