24.2 C
Dehradun
Sunday, May 29, 2022
Homeहमारा उत्तराखण्डचम्पावतचंपावत उपचुनाव : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कराया नामांकन, कहा गोलज्यू...

चंपावत उपचुनाव : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कराया नामांकन, कहा गोलज्यू सर्किट को किया जाएगा विकसित

उत्तराखंड में चंपावत उपचुनाव सियासी केंद्र बना हुआ है। आज पार्टी के तमाम दिग्गजों के साथ मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नामांकन कराया। चंपावत में 31 मई को उपचुनाव होना है और तीन जून को नतीजा आएगा। सीएम के सामने कांग्रेस ने महिला प्रत्याशी निर्मला गहतोड़ी को मैदान में उतारा है। बता दें, कि धामी को सीएम की कुर्सी पर बने रहने के लिए उपचुनाव जीतना जरूरी है। वह खटीमा से विधानसभा चुनाव हार गए थे।

सोमवार को आज विधानसभा उप चुनाव को लेकर नामांकन कराने के लिए सीएम पुष्कर सिंह धामी अपने निर्धारित समय से पहले ही बनबसा पहुंच गए थे। उन्होंने 12 बजे नामांकन कराया। नामांकन दाखिल करने के बाद सीएम धामी ने एक ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने लिखा कि जय मां पूर्णागिरी, जय माां शारदा, जय श्री गोल्ज्यू देवता ! समस्त देवी-देवताओं के आशीर्वाद से मैं चंपावत की देवतुल्य जनता की सेवा करने के लिए तैयार हूं।

जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि चंपावत गुरु गोरखनाथ की भूमि है। उन्होंने बताया कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने उत्तराखंड दौरे के दौरान कहा था कि वह चंपावत गुरु गोरखनाथ के दर्शन के लिए पहुंचेंगे। उन्होंने कहा कि गोलज्यू सर्किट को विकसित किया जाएगा।
मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने कहा कि चंपावत पिथौरागढ़ और मैदान को जोड़ने का काम करेगा। सीएम ने कहा कि जब मेरा परिवार डीडीहाट से खटीमा जाता था तो बीच में चंपावत पड़ता था। मेरी मां कहती थी कि चंपावत के लोग बहुत ही अच्छे हैं और व्यवहारिक होते हैं। विधायक कैलाश गहतोड़ी यह साबित किया है। उन्होंने कहा कि चंपावत के विकास के लिए कोई कसर नहीं छोडूंगा।
जनता को संबोधित करते प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि चंपावत के उपचुनाव में कांग्रेस हताश है। उनकी घबराहट से साफ लग रहा है कि कांग्रेस ने हार मान ली है। यहां पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस इस कदर डरी हुई है कि उसने अपने दूसरे नंबर के प्रत्याशी को मैदान में उतारा है। उपचुनाव में प्रदेश में नया इतिहास रचा जाएगा।
चंपावत उपचुनाव के नामांकन से लेकर जनसभा तक सीएम पुष्कर सिंह धामी का आज अलग ही अंदाज नजर आया। सीएम धामी के साथ ही उनके समर्थकों का उत्साह भी हाई दिखा। रोड शो के जरिए जहां उन्होंने शक्ति प्रदर्शन किया, वहीं जनसभा में उमड़ी भीड़ देखकर वह गदगद नजर आए। उन्होंने जनता का आभार व्यक्त किया।
जनसभा को संबोधित करते हुए कृषि मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि चंपावत की जनता विधायक नहीं सीएम चुनने जा रही है। जोशी ने कहा कि मैंने सीएम धामी के सामने मसूरी से चुनाव लड़ने का प्रस्ताव रखा था, लेकिन उन्होंने गोलू देवता की पावन धरती को चुना। उन्होंने  कहा कि यह चुनाव उत्तराखंड के विकास का है।

जनसभा में उत्तराखंड प्रभारी दुष्यंत गौतम ने कहा कि चंपावत के विकास के लिए यहां के लोगों को सीएम पुष्कर सिंह धामी को जिताना होगा। कहा कि धामी प्रदेश के विकास के लिए बेहतर काम कर रहे हैं। वह इसी तरह यहां के विकास के लिए काम करते रहेंगे, लेकिन यहां की जनता को इस बार उनका साथ देना होगा। 

सबसे अधिक वोटों के अंतर से उपचुनाव जीतने का रिकॉर्ड मुख्यमंत्री के तौर पर विजय बहुगुणा का है। 2002 में तत्कालीन मुख्यमंत्री एनडी तिवारी ने रामनगर विस से चुनाव  जीता था। उन्होंने भाजपा के राम सिंह को 9693 वोटों के अंतर से हराया था। 2007 में भाजपा की सरकार बनीं तो जनरल बीसी खंडूड़ी ने धुमाकोट से उपचुनाव लड़ा। खंडूड़ी के कांग्रेस के सुरेंद्र सिंह नेगी को 14171 मतों के अंतर से हराया।
2012 में कांग्रेस सरकार के तत्कालीन मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा सिंतारगंज विस सीट से उपचुनाव लड़े। भाजपा ने उनके खिलाफ प्रकाश पंत को मैदान में उतारा। बहुगुणा ने यह चुनाव 40154 वोटों के अंतर से जीता। 2014 में तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत ने धारचूला से उपचुनाव लड़ा। भाजपा ने उनकी टक्कर भानु दत्त को मैदान में उतारा। रावत  20600 वोटों के अंतर से चुनाव जीते।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!