रूद्रप्रयाग। बीते सोमवार को पुंछ के मेंढर सब डिवीजन में नियंत्रण रेखा पर तैनात उत्तराखंड का जवान शहीद नहीं हुआ, बल्कि उक्त जवान ने अपनी सर्विस राइफल से ही स्वयं को गोली मार कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

जवान की शिनाख्त गढ़वाल राइफल रेजीमेंट की 8 वीं बटालियन में तैनात लांसनायक आशीष सिंह नेगी निवासी जिला रुद्रप्रयाग के तौर पर हुई है। अभी तक घटना के कारणों का पता नहीं चल पाया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, बीते सोमवार की सुबह मेंढर सब डिवीजन की मनकोट तहसील के भारत-पाक नियंत्रण रेखा पर स्थित बलनोई सेक्टर में तैनात सेना की आठवीं गढ़वाल राइफल के जवानों ने अचानक गोली चलने की आवाज सुनी तो वह भागते हुए बाहर निकले। इसके तुरंत बाद वह उस दिशा में भागे जहां से आवाज आई थी।

मौके पर पहुंचकर जवानों ने देखा कि वहां लांसनायक आशीष सिंह नेगी खून से सना हुआ जमीन पर पड़ा पाया। इसके बाद जवानों ने तत्काल सेना के वरिष्ठ अधिकारियों को घटना की सूचना दी। साथ ही मौके पर चिकित्सकों को बुलाया गया। चिकित्सकों ने जांच के उपरांत जवान को मृत घोषित कर दिया।

हालांकि मेंढर सब डिवीजन में पुलिस ने यह मामला दर्ज कर जांच शुय कर दी है। वहीं घटना के कारणों का अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है। आखिर किन कारणों के चलते ऐसा हुआ इस बारे में कुछ भी सुराग नहीं मिल पाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here