नई टिहरी। उत्तराखण्ड जनएकता पार्टी की आज यहां आयोजित बैठक में कार्यकर्ताओं ने जिला मुख्यालय एवं आसपास के क्षेत्र में पार्टी के अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री दिनेश धनै द्वारा स्थापित कराए गए संस्थानों को कोरोना के उपचार हेतु उपयोग में लाए जाने पर प्रसन्नता व्यक्त की गई और कहा गया कि महामारी के इस दौर में इन संस्थानों का उपयोग जनहित में है और जिला प्रशासन का यह सराहनीय कदम है।

टिहरी में कराए गए विकास कार्यों के लिए कार्यकर्ताओं ने पार्टी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री दिनेश धनै का भी आभार प्रकट किया है।

शनिवार को यहां पार्टी कार्यालय में आयोजित बैठक में वक्ताओं ने कहा कि पार्टी के अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री दिनेश धनै द्वारा स्थापित कराए गए अन्य संस्थानों का भी उपयोग किया जा सकता है। कहा गया कि इसके तहत आवश्यकता पड़ने पर प्रशासन यहां होटल मैनेजमेंट कॉलेज तथा कोटि कालोनी में स्थित पर्यटन विभाग के होटल के साथ-साथ टिहरी झील किनारे निर्मित हट्स को भी कोरोना महामारी हेतु क्वारंटीन सेंटर के रूप में उपयोग में ला सकता है।

उत्तराखण्ड अपडेट-  नैनीताल में कोरोना बम विस्फोट, संख्या पहुंची 716

बैठक में कहा गया कि जिस प्रकार से अन्य पहाड़ी जिलों के लोगों को एम्स ऋषिकेश और दून जैसी जगहों पर उपचार के लिए भेजा जा रहा है, वहीं टिहरी में आज सुरसिंहधार नर्सिंग कॉलेज जो 252 बैड का अस्पताल बनकर तैयार है में 67 कोरोना के रोगियों का उपचार जारी है।

कोटि कॉलोनी स्थित राजीव गांधी साहसिक क्रीड़ा एकेडमी में 200 बैड का अस्पताल बनाने की तैयारियां जोरों पर हैं। जाखणीधार पॉलिटेक्निक कॉलेज भी प्रवासी लोगों को क्वारंटीन करने के काम आ रहा है।

बैठक में सोमवारी लाल सकलानी, संजय मैठाणी, पूर्व प्रमुख आनंदी नेगी, गोविन्द सिंह बिष्ट, दिनेश उनियाल, संजय सिहं रावत, रागनी भट्ट, शकुंतला नेगी, अध्यक्ष पूर्व सैनिक संगठन देव सिहं पुण्डीर, हितेश चैहान, निर्मला बिष्ट, श्रीराम भट्ट, पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष प्रताप गुंसाई, बलवीर नेगी, भूपेन्द्र रावत, शशी भूषण भट्ट आदि प्रमुख रूप से मौजूद थे।

 यह भी जानें-  राज्य में अब एक जिले से दूसरे जिले में जाने पर नहीं होंगे क्वारंटीन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here