देहरादून। यदि आप मदिरा का सेवन करते हैं तो आपको पहले के मुकाबले अब अपनी जेब ज्यादा ढीली करनी पड़ सकती है। प्रदेश सरकार जल्द मदिरा की कीमतों में इजाफा करने जा रही है। प्रदेश का आबकारी महकमा इसकी तैयारी में जुटा हुआ है। मदिरा के मूल्यों में यह वृद्धि कोविड-19 सेस के नाम पर किए जाने का प्रस्ताव है। संभवतया कल होने वाली प्रदेश मंत्रीमंडल की बैठक में इस प्रस्ताव को हरी झण्डी मिल सकती है। इस प्रस्ताव को कोरोना महामारी के चलते सरकार पर बढ़े अतिरिक्त आर्थिक बोझ को कम करने के एक विकल्प के तौर पर देखा जा रहा है।

सूबे को आबकारी महकमे से प्रतिवर्ष करीब साढ़े तीन हजार करोड़ से अधिक का राजस्व प्राप्त होता है। ऐसा नहीं है कि मदिरा की कीमतों में बढ़ोत्तरी सिर्फ इसी राज्य में की जा रही हो बल्कि दिल्ली सहित अन्य कई राज्य सरकारों ने भी मूल्यों में इजाफा कर लिया है। सूत्रों के मुताबिक राज्य सरकार शुल्क लगाकर उसका उपयोग कोरोना महामारी से बचाव में करेगी।

आज सूबे के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में सम्पन्न बैठक में मदिरा के मूल्य में वृद्धि के प्रस्ताव पर चर्चा उपरांत आबकारी महकमे को प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए गए। सूबे के प्रमुख सचिव आबकारी आनंद बद्र्धन के मुताबिक कोविड-19 सेस लगाने को प्रति बोतल कितना शुल्क होगा, इसका निर्णय मंत्रिमंडल द्वारा किया जाएगा।

SBI इमरजेंसी लोन: बैंक दे रहा 45 मिनट के अंदर अधिकतम 5 लाख तक का लोन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here