उत्तराखंड बोर्ड की प्रयोगात्मक परीक्षाएं अप्रैल में होंगी, जबकि लिखित परीक्षाएं मई में हो सकती हैं। शिक्षा विभाग के अधिकारियों के मुताबिक इस बार कोविड-19 की वजह से बोर्ड की परीक्षाएं कुछ देरी से शुरू होंगी। हालांकि जून में रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा।

शिक्षा विभाग के अधिकारियों के मुताबिक केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने सीबीएसई बोर्ड की परीक्षाएं मई में कराने की घोषणा की है। ऐसे में उत्तराखंड बोर्ड की प्रयोगात्मक परीक्षाएं अप्रैल में कराने के बाद लिखित परीक्षाएं मई में शुरू हो सकती हैं।
बताया गया है कि बोर्ड के परीक्षार्थियों की संख्या इस बार पिछले साल से कुछ कम है।

शिक्षा निदेशक आर0के0 कुंवर के मुताबिक 28 जनवरी को उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद की बैठक बुलाई गई है। बैठक में परीक्षा कलेंडर तय करने पर चर्चा की जाएगी।

वहीं परीक्षार्थियों की संख्या भी कुछ कम हुई है। शिक्षा विभाग के अधिकारियों के मुताबिक सामान्य दिनों में मार्च प्रथम सप्ताह से बोर्ड परीक्षाएं शुरू होती थी और मई में रिजल्ट घोषित होता था, लेकिन इस बार मई में परीक्षाएं होंगी और जून में रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here