6 C
New York
Tuesday, April 13, 2021
spot_img
Homeहमारा उत्तराखण्डटिहरीटिहरीः कुंडी गांव के चार युवकों की जंगल में संदिग्ध परिस्थितियों में...

टिहरीः कुंडी गांव के चार युवकों की जंगल में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

नई टिहरी। जंगल में शिकार करने गए सात दोस्तों में से चार युवकों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। प्रत्यक्षदर्शी दो युवकों के अनुसार पैर फिसलने से शिकारी की भरी बंदूक से गोली पीछे से आ रहे युवक की छाती पर जा लगी और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इस घटना से सहमे अन्य तीन युवकों ने आनन-फानन में निकटवर्ती छानी में जाकर कीटनाशक गटक कर मौत को गले लगा लिया। जबकि मुख्य आरोपी बंदूक के साथ वहां से फरार होने में कामयाब रहा। गनीमत रही कि दो युवक बच बच गए। इससे पहले ही विषाक्त गटकने वाले युवकों को इलाज होता उन्हों अस्पताल में दम तोड़ दिया। इस घटना से गांव सहित पूरे क्षेत्र में मातम पसरा हुआ है।
भिलंगना ब्लॉक के कुंडी गांव के छह युवकों को निकटवर्ती खवाड़ा गांव निवासी उनके दोस्त राजीव उर्फ रजी (22) पुत्र प्रताप सिंह का रात आठ बजे फोन आया कि जंगल शिकार के लिए जाते हैं। जिसके बाद संतोष (19) पुत्र दिलीप सिंह, सोबन सिंह (21) पुत्र केशर सिंह, पंकज सिंह (22) पुत्र अब्बल सिंह, अर्जुन सिंह (20) पुत्र नैन सिंह, राहुल (20) पुत्र मोहन सिंह और सुमित (18) पुत्र कुंदन सिंह सभी निवासी ग्राम कुंडी तहसील बालगंगा शिकार करने के लिए गांव से ऊपर जंगल की ओर गए। प्रत्यक्षदर्शी राहुल और सुमित ने बताया गांव की ताना नामे तोक में बंदूक के साथ रजी आगे-आगे चल रहा था और ठीक पीछे संतोष और अन्य लोग टार्च के सहारे जा रहे थे। अचानक रात 11 बजे के करीब रजी का पांव फिसला और उसके कंधे पर रखी बंदूक का ट्रिगर दबा और गोली सीधे संतोष के पेट पर जा लगी। देखते ही देखते संतोष खून से लथपथ होकर वहीं पर मर गया। बताया कि शव को लेकर आरोपी रजी की चौलाह नामे तोक में स्थिति छानी में पहुंचे। वहां आलू व सब्जियों में छिड़काव के रखे कीटनाशक को साथ लेकर सभी नीचे की ओर कुंडी गांव के खोली खाल नामे तोक में उत्तम दास की छानी में गए। वहां रजी, सोबन, पंकज और अर्जुन ने राहुल और सुमित से कहा तुम दोनों घर के अकेले हो। गांव जाओ हम लोग घटना से शर्मिंदा है और जहर खा रहे हैं। सोबन, पंकज और अर्जुन ने कीटनाशक गटका और रजी ने कहा कि मैं ऊपर अपनी छानी में खाऊंगा और वहां से फरार हो गया। जबकि राहुल और सुमित गांव लौट गए। रविवार तड़के चार बजे के करीब तीनों के परिजन व अन्य लोग घटना स्थल पर पहुंचे तो उन्हें किसी तरह सीएचसी बेलेश्वर ले गए। जहां डॉक्टरों ने पंकज और अर्जुन को मृत घोषित किया जबकि सोबन की इलाज के दौरान मौत हो गई। घटना से पूरे गांव में मातम पसरा हुआ है। सीएचसी के प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. श्याम विजय ने बताया कि ऐसा प्रतीत हो रहा है कि तीनों ने विषाक्त पदार्थ खाया है लेकिन मौत के असली कारणों का पता पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद चल सकेगा। एसडीएम फिंचाराम चौहान ने भी पुष्टि करते बताया कि संतोष की मौत गोली लगने से हुई जबकि तीन अन्य युवकों ने संभवता कीटनाशक खाया। चारों मृतकों के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल बौराड़ी भेजा है। अभी तक मामले में कोई तहरीर नहीं मिली है। राजस्व पुलिस आरोपी की तलाशी कर रही है। अभी तक बंदूक का लाइसेंस किसके नाम पर था, संशय बना हुआ है।
वहीं दूसरी ओर, डीएम इवा आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि भिलंगना ब्लॉक के कुंडी गांव के जंगल में हुई घटना की जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम होने के बाद जांच को राजस्व पुलिस से रेगुलर पुलिस को सौंपी जाएगी। बताया कि युवक जंगल में शिकार करने किसी बंदूक ले गए इसकी भी पड़ताल की जा रही है। जल्द ही इस घटना का खुलासा किया जाएगा। कहा कि डीएफओ डा. कोको रोसे को भी निर्देश दिए हैं कि वन विभाग की घटना होने के कारण वन विभाग को इस घटना की सघन जांच करे। वहीं एसएसपी तृप्ति भट्ट ने भी बताया कि मामले की प्रकृति गंभीर किस्म की होने के कारण सीओ महेश चंद्र बिंजौला और थानाध्यक्ष कुलदीप शाह घटना स्थल पर गए हैं। ग्रामीणों के बयानों की सत्यतता की पुष्टि के लिए जांच की जा रही है।

—-––——————–

नई टिहरी। जिले के भिलंगना प्रखण्ड के थाती-कठुड़ पट्टी के कुंडी गांव के चार युवकों की जंगल में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। बताया जा रहा है कि बीती शनिवार शाम को इस गांव के पांच युवक जो आपस में दोस्त थे, गांव के पास जंगल में शिकार करने गए थे, जिस दौरान एक युवक को गोली लग गई और मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

बताया जा रहा है कि इस घटना से डरे तीन युवकों ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। हालांकि मामले में राजस्व पुलिस जांच में जुट गई है। एक युवक घटना के बाद फरार बताया जा रहा है।

मिली जानकारी के अनुसार बीती शनिवार शाम को कुंडी गांव के यह पांच युवक गांव के पास शिकार करने चोलाह तोक के जंगल में गए थे। शिकार करते समय इनमें से एक युवक को अचानक गोली लग गई, जिसकी मौके पर ही मौत हो गई। मृतक युवक की पहचान संतोष (19 वर्ष) पुत्र दलेब सिंह पंवार के रूप में हुई है।

बताया जा रहा है कि इस घटना के बाद तीन अन्य युवक घबरा गए। बताया जा रहा है कि इस घटना के बाद डरे सहमे अन्य तीनों युवकों ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। देर शाम जब यह युवक गांव नहीं पहुंचे तो परिजनों के द्वारा जंगल में खोजबीन की गई तो वहां ग्रामीणों को इनके शव मिले।

इसके बाद ग्रामीणों ने इन तीनों युवकों को अस्पताल पहुंचाया। देर रात्रि को तीनों युवकों को सीएचसी बेलेश्वर ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने तीनों युवकों को मृत घोषित कर दिया। ग्रामीणों से मिली जानकारी के मुताबिक एक युवक की मौत गोली लगने और अन्य तीन की जहरीला पदार्थ खाने से मौत हुई है। बताया गया है कि तीन मृतक युवकों को सीएचसी बेलेश्वर से पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय बौराड़ी को भेज दिया गया है।

एसडीएम घनसाली फिंचाराम चौहान ने बताया कि मृतकों में संतोष सिह पुत्र दलेब सिंह पवार उम्र (19 वर्ष), अर्जुन सिंह पुत्र नैन सिंह पंवार ( 23 वर्ष), पंकज सिंह पुत्र अब्बल सिंह (24 वर्ष), सोबन सिंह पुत्र केसर सिंह पंवार (23 वर्ष) सभी निवासी थाती-कठुड़ पट्टी के हैं। जबकि एक अन्य युवक का कुछ पता नहीं है। जिसको फरार बताया जा रहा है।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!