21.6 C
Dehradun
Saturday, September 18, 2021
Homeहमारा उत्तराखण्डशिक्षक, राष्ट्र की प्रगति, विकास का आधार और शिक्षा का श्रेष्ठ स्रोत:...

शिक्षक, राष्ट्र की प्रगति, विकास का आधार और शिक्षा का श्रेष्ठ स्रोत: पाण्डेय

उत्तराखंड के विद्यालयी शिक्षा, प्रौढ़ शिक्षा, संस्कृत शिक्षा, खेल, युवा कल्याण एवं पंचायती राज मंत्री अरविन्द पाण्डेय ने राजकीय बालिका इण्टरमीडियट विद्यालय गदरपुर, जनपद उधमसिंह नगर में भारत रत्न, देश के भूतपूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी की जयंती के अवसर पर उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की।

इसी क्रम में मंत्री अरविन्द पाण्डेय ने शिक्षक दिवस के अवसर पर विद्यालय की वर्चुअल लैब के माध्यम से उत्तराखंड प्रदेश के शिक्षक भाईयों एवं शिक्षिका बहनों को संबोधित कर बधाई एवं शुभकामनाएं प्रेषित की।

मंत्री ने कहा कि शिक्षक, राष्ट्र की प्रगति, विकास का आधार और शिक्षा का श्रेष्ठ स्रोत हैं। देश समाज के लिए श्रेष्ठ नागरिक निर्माण हेतु समस्त शिक्षकों का देवतुल्य कार्य अविस्मरणीय है। समस्त सम्मानित शिक्षकगण सदैव बच्चों और युवा मन को पोषित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है।

आप न केवल विद्यालयों की सीमाओं के भीतर अपितु सम्पूर्ण समाज को अपने ज्ञान से आलोकित करते हैं। प्रदेश के उन्नयन में पूर्ण लगन और निष्ठा से कार्यरत समस्त शिक्षकों को सादर नमन करता हूँ विशेषतः उनका जो प्रदेश की विषम भौगोलिक परिस्थितियों में भी अपना पूर्ण सहयोग दे रहे हैं।

साथ ही मंत्री अरविन्द पाण्डेय ने कहा कि सभी शिक्षकों ने COVID-19 लॉकडाउन के समय में विद्यार्थियों के पठन-पाठन को सतत रूप से जारी रखने के लिए नवाचार किया और सभी बच्चों की शिक्षा यात्रा सुनिश्चित की, यह प्रशंसनीय है। इस सराहनीय और अभूतपूर्व कार्य के लिए सभी शिक्षक भाईयों एवं शिक्षिका बहनों तथा इन कार्यों में सहायक रहे सभी तकनीकी क्षेत्र से जुड़े बंधुओं को सह्रदय साधुवाद !

प्रदेश सरकार द्वारा स्थापित अटल उत्कृष्ट विद्यालयों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और शिक्षण कार्य में उच्च मानक स्थापित करने हेतु मुख्य आधार हमारे समस्त शिक्षक भाई और शिक्षिका बहनें ही है। यह भी सत्य है की प्रदेश सरकार ने शिक्षा के क्षेत्र में जो अभूतपूर्व कार्य किए हैं उन सभी कार्यों का आधार हमारे समस्त शिक्षक भाई और शिक्षिका बहनें ही है। प्रदेश सरकार सभी शिक्षकों के अनुरूप वातावरण बनाने के प्रति पूर्ण प्रतिबद्ध है जिससे हमारे सम्मानित शिक्षक “राष्ट्र निर्माण” के इस महान एवं महत्वपूर्ण कार्य को करने में गौरवान्वित महसूस करे।   

इसी क्रम में मंत्री अरविन्द पाण्डेय ने पुनः शिक्षक दिवस की सभी को शुभकामनायें प्रेषित कर सभी से आग्रह किया कि आइये, हम अपने अनुभव, ज्ञान, शिक्षा, विचारों और अपने कौशल को निरन्तर देश की सेवा में लगाकर, हमारे नौनिहालों का जीवन और भविष्य उज्जवल करें। हम सदैव संकल्पबद्ध रहें कि सरकारी शिक्षा की विश्वसनीयता को पुनर्स्थापित करेंगे तथा शिक्षा से वंचित हर बच्चे को विद्यालय तक पहुंचेंगे।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!