देहरादून। अन्य वर्षों की तुलना में इस बार उत्तराखण्ड का 20 वां राज्य स्थापना दिवस कुछ खास होने जा रहा है। राज्य स्थापना दिवस पर सरकार जहां राज्य के लोगों को कई तोहफे देने जा रही है, वहीं इस मौके पर स्मार्ट राशन कार्ड वितरण और परिवहन की सभी सेवाओं को ऑनलाइन करने की घोषणा भी शामिल है।

यही नहीं इस बार स्थापना दिवस समारोह पूरे पांच दिन तक मनाया जाएगा। सात नवंबर से 11 नवंबर तक राज्य स्थापना दिवस के तहत विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। स्थापना पर्व पर पूरे पांच दिनों तक प्रदेश के सभी प्रमुख सरकारी भवन प्रकाशमान रहेंगे।

मुख्य सचिव ओम प्रकाश की अध्यक्षता में हुई बैठक के कार्यवृत्त के अनुसार जहां सभी कार्यक्रमों को अंतिम रूप दे दिया गया है वहीं इस आयोजन में शारीरिक दूरी समेत अन्य सावधानियों का पूरा ध्यान रखा जाएगा।

वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के तहत मुख्यमंत्री स्मार्ट राशन कार्ड की लांचिंग करेंगे। योजना के तहत करीब 23 लाख राशन उपभोक्ताओं को स्मार्ट राशन कार्ड का वितरण शुरू होगा। इस कार्ड से उपभोक्ता प्रदेश और प्रदेश से बाहर किसी भी स्थान पर राशन ले सकेंगे। राशन कार्ड की प्रत्येक यूनिट की आधार लिकिंग होगी। इससे राशन वितरण में पारदर्शिता रहेगी।

मुख्यमंत्री परिवहन की सभी सेवाओं के ऑनलाइन होने की लांचिंग करेंगे। सारथी और वाहन पोर्टल के माध्यम से परिवहन विभाग की अभी तक 50 से अधिक सेवाएं ऑनलाइन हो गई हैं। करीब एक दर्जन सेवाएं और ऑनलाइन हो जाएंगी।

मुख्यमंत्री सात नवंबर को चमोली व रुद्रप्रयाग और आठ नवंबर को चंपावत व ऊधमसिंह नगर में राज्य स्थापना दिवस के कार्यक्रमों में भाग लेंगे और घोषणाएं करेंगे। नौ नवंबर को पुलिस लाइन में स्थापना दिवस की परेड होगी। राज्यपाल सलामी लेंगी। मुख्यमंत्री का संबोधन होगा।

राज्य स्थापना समारोह में विद्यालय शिक्षा विभाग की ओर से पंडित दीन दयाल उपाध्याय शैक्षिक उत्कृष्टता पुरस्कार दिए जाएंगे। अंतरजातीय व अंतरधार्मिक विवाह प्रोत्साहन पुरस्कार, दिव्यांग पुरस्कार भी दिए जा सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here