उत्तराखण्ड का एक जवान देश की सीमा पर शहीद हो गया। नैनीताल जनपद के ओखलकांडा ब्लाक के पदमपुर मीडार निवासी और वर्तमान में हाल निवास गोरापड़ाव हल्द्वानी युमना प्रसाद पनेरू की बीती रात्रि कुपवाड़ा में शहीद होने की सूचना है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक यहां बर्फ से ढकी चोटियों पर अपनी टीम को रेस्क्यू करते वक्त उनका अचानक पैर फिसल गया और गहरी खाई में गिरने से वह शहीद हो गए।

शहीद के छोटे भाई भुवन पनेरू ने बताया कि उनके बड़े भाई यमुना प्रसाद पनेरू वर्ष 2001 में छह कुमाऊं रेजीमेंट में भर्ती हुए थे। 8 वीं तक की पढ़ाई उच्च प्राथमिक विद्यालय मीडार से करने के बाद 9 वीं और 10 वीं की पढ़ाई एसएमएसडी स्कूल कनखल हरिद्वार से पूरी की।

इंटरमीडिएट की परीक्षा हरिराम इंटर कॉलेज से पास करने के बाद डीएवी देहरादून में बीएससी में दाखिला लेने के पहले वर्ष ही उनका चयन सेना में हो गया। वह अपने पीछे 7 वर्षीय बेटे यश और 05 साल की बेटी साक्षी, पत्नी, मां महेश्वरी देवी को छोड़ गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here