ऋषिकेश-बदरीनाथ राजमार्ग को खोलने में लोक निर्माण विभाग (पीडब्लूडी) राष्ट्रीय राजमार्ग श्रीनगर डिवीजन आज असफल रहा। बीते आठ अक्टूबर तक विभाग ने इस राजमार्ग पर यातायात बंदी की अनुमति ली थी। सभी लोग आज शुक्रवार को राजमार्ग खुलने का इंतजार करते रहे मगर देर शाम तक भी यह राजमार्ग नहीं खुल पाया।

हालांकि विभाग का कहना है कि रोड़ कटिंग के दौरान दीवार ढहने से राजमार्ग नहीं खोला जा सका। आज देर शाम तक राजमार्ग यातायात के लिए खोल दिया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि ऋषिकेश-बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर कौड़ियाला-साकनीधार के बीच तोताघाटी वाले क्षेत्र में बीते छह माह से कटिंग का कार्य जारी है। यहां पहाड़ कटिंग के लिए लोनिवि तीन बार यातायात बंदी की अनुमति ले चुका है, लेकिन हर बार विभाग कटिंग का कार्य पूरा न कर यातायात खोलने में अब तक विफल रहा है।

राजमार्ग के इस क्षेत्र में अभी तीसरी बार लोनिवि ने बीते 9 सितंबर से 8 अक्तूबर तक के लिए यातायात बंदी ली थी, लेकिन बीते 8 अक्तूबर तक लोनिवि राजमार्ग को यातायात लायक नहीं बना पाया है। जिसके चलते तोताघाटी में मार्ग बंद होने से बीते मार्च के महीने से ऋषिकेश से श्रीनगर के बीच वाहनों का आवागमन मलेथा-पीपलडाली-चंबा-नरेंद्रनगर रुट से हो रहा है, जो कि काफी लंबा मार्ग है और इससे आवाजाही कर रहे लोग अब खासे परेशानी में हैं।

यही नहीं इस राजमार्ग के न खुलने से श्रीनगर, रूद्रप्रयाग, चमोली क्षेत्र को जाने वाले खाद्यान्न, फल एवं सब्जी, आवश्यक सेवाओं सहित परियोजना आदि निर्माण कार्यों की सप्लाई भी प्रभावित हो रही है।

लोनिवि के सहायक अभियंता बी0एन0 दुवेदी ने बताया कि बीते बुधवार को पहाड़ तोड़ने के लिए ब्लास्टिंग की गई थी। इसी दौरान कौड़ियाला की ओर सड़क के नीचे की दीवार ढह गई, जिसके चलते राजमार्ग को खोला नहीं जा सका है। बताया कि आज शुक्रवार शाम तक मार्ग को यातायात के लिए खोलने के प्रयास किए जा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here