राजधानी देहरादून के लोगों के लिए राहत भरी खबर है। कल एक जुलाई से नगर निगम देहरादून और छावनी परिषद क्षेत्र के अंतर्गत सभी धार्मिक स्थलों के साथ ही होटल, मॉल आदि लोगों के लिए खुल रहे हैं। धार्मिक स्थलों पर अभी लोगों को दूर से ही दर्शन करने पड़ेंगे और इस दौरान सैनिटाइजर के साथ साबुन से हाथ धोने की व्यवस्था आवश्यक रूप से अमल में लानी होगी। इसके अलावा फेस मास्क एवं शारीरिक दूरी का पालन अनिवार्य रूप से करना होगा। अभी कंटेनमेंट जोन में स्थित धार्मिक स्थल, होटल और मॉल पहले की तरह बंद रहेंगे।

यह भी जानें- जौलीग्रांट एयरपोर्ट से फ्लाइटों के समय में बदलाव

विदित हो कि बीते तीन माह से कोरोना महामारी के चलतेे देहरादून नगर निगम क्षेत्र के साथ ही गढ़ी और क्लेमेंटटाउन छावनी परिषद क्षेत्र में सभी होटल, माॅल एवं धार्मिक स्थल बंद थे। अब एक जुलाई से जिला प्रशासन इन्हें खोलने जा रहा है। फिलहाल बताया जा रहा है कि मंदिरों में घंटी बजाने पर प्रतिबंध रहेगा।

यह भी जानें- चारधाम यात्रा कल से, बदरीनाथ धाम में श्रद्धालु अभी नहीं कर पाएंगे रात्रि विश्राम

धार्मिक स्थलों में सिर्फ उन्हीं लोगों को प्रवेश की अनुमति दी जाएगी, जिनमें कोरोना का कोई लक्षण नहीं है। इसके अलावा मस्जिदों में भी शारीरिक दूरी का पालन करते हुए अब लोग नमाज पढ़ सकेंगे।

यह भी जानें- अब सचिवालय में एक जुलाई से आगंतुक भी कर सकेंगे प्रवेश

खोलने से पहले होटल, मॉल को भी उसके मालिक द्वारा सैनिटाइज करना होगा। शॉपिंग मॉल के गेट पर प्रबंधन को थर्मल स्क्रीनिंग एवं सैनिटाइजर की व्यवस्था करनी होगी। बिना मास्क पहने किसी को भी प्रवेश नहीं दिया जाएगा। ग्राहकों के बीच कम से कम 06 फीट की दूरी बनानी अनिवार्य होगी। फिलहाल अभी मैरिज गार्डन, स्विमिंग पूल, जिम, सिनेमा हॉल, पार्क, बार, ऑडिटोरियम, सभा कक्ष बंद रहेंगे।

 जानें-  चारधाम दर्शन को गाइडलाइन जारी,एक जुलाई से दर्शन,यहाँ से करें ई-पास के लिए आवेदन 

जिलाधिकारी डा0 आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि नगर निगम क्षेत्र देहरादून तथा गढ़ी कैंट और क्लमेंटटाउन छावनी परिषद में मौजूद होटल, माॅल एवं धार्मिक स्थल खोले जाने के शासन की ओर से आदेश मिल गए हैं। शासन द्वारा जारी गाइडलाइन के मुताबिक एक जुलाई से इन्हें खोल दिया जाएगा। बताया कि लोगों को फेस मास्क एवं शारीरिक दूरी के नियमों का पूरी तरह से पालन करना होगा।

यह भी जानें- कोरोना के आज मिले 51 मामले, अब तक 2881

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here