अपडेट- 3 मई- 11.50 बजे

देहरादून। उत्तराखण्ड में हरिद्वार जिले को छोड़ बाकी 12 जिलों में 4 मई से प्रात: 7.00 बजे से शाम 4.00 बजे तक व्यावसायिक प्रतिष्ठान एवं दुकानें खुल सकेगीं। सभी जोनों में हेयर सेलून, शॉपिंग मॉल एवं काम्पलेक्स की दुकानें बंद रहेंगी। रेड जोन में शामिल हरिद्वार जिले के नगरीय क्षेत्र में कोई फेरबदल नहीं किया गया है, लेकिन ग्रामीण इलाकों में दुकानें प्रात: 7.00 बजे से शाम 4.00 बजे तक खोलने का निर्णय लिया गया है।

उत्तराखण्ड सरकार ने केंद्रीय गृह मंत्रालय की गाइड लाइन में यहां की परिस्थितियों के अनुसार आंशिक फेरबदल किया है। मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह के मुताबिक चार मई से शुरू हो रहे तीसरे चरण के लॉकडाउन को केन्द्र की गाइडलाइन को लागू किया जा रहा है। इसके अनुसार सरकारी कार्यालय, दुकानें और व्यवसायिक संस्थान खोलने के लिए तीन श्रेणी तय की गई हैं। ग्रीन जोन में प्रदेश के 10 जिले, हरिद्वार रेड जोन एवं देहरादून और नैनीताल जिले ऑरेंज जोन में शामिल किए गए हैं।

रेड जोन में केवल जरूरी वस्तुओं की दुकानें प्रात: 7.00 बजे से 1.00 बजे तक खुलेंगी। राज्य के समस्त ग्रीन जोन में सार्वजनिक परिवहन प्रणाली शुरू की जाएगी। इन जिलों में शारीरिक दूरी समेत अन्य सावधानियों का अनुपालन करते हुए टैक्सी, मैक्सी और बसें चल सकेंगी। रेड जोन में प्रतिबंधित रहेगी। हालांकि ऑरेंज जोन में कुछ शर्तों के साथ टैक्सी और गाडिय़ां चल सकती हैं।

उत्तराखण्ड सरकार ने यह भी निर्णय लिया है कि शाम 7.00 बजे से अगली प्रात: 7.00 बजे तक पूर्ण लॉकडाउन रहेगा। इस अवधि में किसी भी व्यक्ति को घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं रहेगी। यदि किसी व्यक्ति को स्वास्थ्य सम्बन्धी कोई परेशानी होती है तो तब आपातकाल की स्थिति में आवाजाही की जा सकेगी। दुकानदारों को यह भी सुनिश्चित करना होगा कि उनके यहां 50 प्रतिशत स्टॉफ ही काम पर आए। व्यापारिक प्रतिष्ठानों में भीड़ नहीं लगाई जा सकती। एक समय में एक ग्राहक ही सामान खरीदेगा।

दुकान में सैनिटाइजर रखने के साथ ग्राहक और दुकानदार को मास्क पहनना अनिवार्य रहेगा। निजि कंपनियों के आफिस भी खोले जा सकते हैं, केवल स्टॉफ की तैनाती को लेकर रोस्टर चार्ट बनाना होगा। रेड जोन के ग्रामीण क्षेत्रों में भी सभी तरह की दुकानें खोली जा सकती हैं।

उत्तराखंड राज्य में खुलेगी शराब की दुकाने– प्रदेश सरकार ने निर्णय लिया है कि रेड जोन वाले जिले को छोड़ अन्य सभी जिलों में 4 मई से शराब की दुकानें खुलेगी। शराब की बिक्री को व्यावसायिक गतिविधि मानते हुए अन्य दुकानों की तरह इन्हें शाम 4.00 बजे तक खोलने की अनुमति दी जाएगी।

जोन तय करने के यह हैं मानक

केन्द्र सरकार द्वारा कोविड-19 के तहत तीन जोन ग्रीन, ऑरेंज और रेड जोन बनाए गए हैं, इसे तय करने के लिए बाकायदा चार बिंदुओं का प्रारूप तैयार किया गया है। सिर्फ पॉजिटिव केस के आधार पर श्रेणी तय नहीं की जाती है। इसके लिए जिन बातों को आधार बनाया गया है उसमें एक्टिव केस, जांच में पॉजिटिव पाए जाने का प्रतिशत, केस के डबल होने की दर और निगरानी तंत्र शामिल हैं। केंद्र सरकार द्वारा प्रत्येक सप्ताह जिलों के जोन तय करने की व्यवस्था बनाई गई है, जिससे श्रेणी परिवर्तित होने पर राहत देने या समाप्त करने का निर्णय लिया जा सकता है।

इसे भी पढ़े- उत्तराखण्ड: सरकारी कार्यालय खुलने की गाइड लाइन जोन वाइज जारी