प्रदेश की एक मात्र विद्युत वितरण कंपनी उत्तराखंड पावर कारपोरेशन लिमिटिड ने लाॅकडाउन के चलते बंद पड़े प्रदेश के होटल, रेस्टारेंट एवं ढाबों को बड़ी राहत दी है।

यूपीसीएल ने उनका अप्रैल से जून तक तक का बिजली के बिल पर लगने वाला फिक्स चार्ज माफ कर दिया है। जबकि अभी तक मार्च से मई तक का चार्ज केवल स्थगित था, माफ नहीं किया गया था।

कोरोना अपडेट-  प्रदेश में आज मिले 37 मामले, संख्या पहुंची 958

समूचे प्रदेश में लॉकडाउन के चलते सभी होटल, रेस्टारेंट, ढाबे आदि बंद पड़े हैं। ऐसे में इन व्यापारिक प्रतिष्ठानों के बंद होने के बावजूद उन्हें बिजली का बिल भुगतान करना पड़ रहा था। लाॅकडाउन के कारण पहले ही इस व्यवसाय से जुड़े लोगों के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है।

इसके चलते इस व्यवसाय से जुड़े लोगों ने सरकार से बिजली बिल आदि माफ करने की मांग की थी। उनकी इस मांग पर सरकार ने उन्हें राहत देने की घोषणा की थी। इस बीच यूपीसीएल की ओर से मार्च से मई तक फिक्स चार्ज स्थगित करने के आदेश जारी किए गए। जिसका मतलब यह था कि यह स्थगित किया गया है माफ नहीं किया गया है।

उत्तराखण्ड मौसमः प्रदेश में इस सप्ताह गर्मी से मिल सकेगी निजात

इधर, अब यूपीसीएल ने अपने पूर्व में जारी किए गए आदेश में संशोधन करते हुए मार्च के स्थान पर अप्रैल से जून तक के बिलों पर लगने वाला फिक्स चार्ज पूरी तरह से माफ कर दिया है।

इस संबंध में यूपीसीएल के प्रबंध निदेशक बीसीके मिश्रा ने बताया कि फिक्स चार्ज पूरी तरह से माफ होने पर इन व्यवसायियों को अब बड़ी राहत मिल सकेगी।

जानें- विश्व धरोहरः आज खुल गई फूलों की घाटी, अभी नहीं जानें की इजाजत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here