हरिद्वार। जिला मुख्यालय रोशनाबाद स्थित भिक्षुक गृह में बनाई गई अस्थायी जेल का दरवाजा तोड़कर मंगलवार सुबह फरार हुए आठ बंदियों में से पुलिस अब तक 6 को गिरफ्तार कर लिया गया है। चार कैदियों को मंगलवार को ही गिरफ्तार कर लिया गया था, जबकि दो कैदी शुभम पंवार और निशु शर्मा को आज बुधवार को पुलिस ने मंगलौर से पकड़ लिया है। अन्य दो आरोपियों की तलाश में पुलिस जुटी हुई है।

मंगलवार सुबह आठ बंदी फरार हो गए थे। एक घंटे बाद पुलिस महकमे को इसका पता चला तो हड़कंप मच गया। आननफानन में पूरे जिले की पुलिस को अलर्ट कर बंदियों के भागने की सूचना दी गई। दिनभर कांबिंग के बाद पुलिस ने चार बंदियों को पकड़ लिया, जबकि चार का देर शाम तक पता नहीं चल सका था। पुलिस उनकी तलाश में जुटी है। वहीं, मामले में डीएम सी रविशंकर ने पुलिस और जेल प्रशासन से रिपोर्ट तलब की है। उन्होंने कहा है कि जो भी दोषी पाए जाएंगे, उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।

——————-

हरिद्वार। यहां रोशनाबाद स्थित अस्थाई जेल से आज मंगलवार को प्रातः आठ कैदी फरार हो जाने से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। पुलिस ने जनपद की सीमाओं पर चैकसी बढ़ाते हुए फरार कैदियों की धरपकड़ को अभियान चलाया हुआ है। फरार कैदियों में एक करोड़ की फिरौती मांगने का आरोपी भी शामिल है।

विदित हो कि कोविड-19 गाइडलाइन को देखते हुए कैदियों को एक सप्ताह के लिए अस्थाई जेल में रखा जा रहा था, जिसके लिए रोशनाबाद मुख्यालय स्थित भिक्षुक गृह को अस्थाई जेल बनाया गया है। यहां से आज सुबह आठ कैदी अचानक फरार हो गए, जिसके बाद पुलिस के हाथ पांव फूल गए।

हरिद्वार जनपद की सीमाओं पर चैकसी बढ़ाते हुए पुलिस द्वारा कैदियों की तलाश की जा रही है। सिडकुल थानाध्यक्ष लखपत बुटोला ने बताया कि आठ कैदी फरार हुए हैं। फरार कैदियों में ज्वालापुर के प्रॉपर्टी डीलर के घर फायरिंग और एक करोड़ की फिरौती मांगने के आरोपी भी शामिल हैं। बताया कि इसके चलते जिलेभर की पुलिस को हाई अलर्ट कर दिया गया है। खास तौर पर जनपद की सीमाओं पर चैकसी बढ़ाने के निर्देश जारी किए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here