बुद्धवार को आज टिहरी झील में प्रसिद्ध कवि डा0 कुमार विश्वास ने बोटिंग कर झील से सटे क्षेत्रों का लुत्फ उठाया। बीते कुछ रोज से साहसिक पर्यटन का प्रमुख केन्द्र टिहरी झील सैलानियों की आमद से खासी गुलजार है। नव वर्ष आगमन से पूर्व यहां बांध झील में बोटिंग करने काफी संख्या में पर्यटक पहुंच रहे हैं, जिससे यहां के बोट व्यवसायी एवं व्यापारियों के चेहरे खिल उठे हैं।

प्रसिद्ध कवि डा0 कुमार विश्वास ने आज बुधवार को अपने परिजनों के संग टिहरी झील में बोटिंग की। कुमार ने इस दौरान स्पीड बोट में सवार होकर कोटी से डोबरा-चांठी पुल तक टिहरी झील और इससे लगे प्रतापनगर क्षेत्र की वादियों का दीदार किया। इस दौरान उन्होंने टिहरी के मौसम की खूब प्रशंसा करते हुए कहा कि टिहरी झील से स्थानीय लोगों को अभी और अधिक संख्या में रोजगार दिया जा सकता है और इसके लिए सरकार को प्रयास करने चाहिए।

डा. विश्वास ने कहा वह अपनी पत्नी मंजू शर्मा और साले के साथ थर्टीफस्ट मनाने टिहरी झील पहुंचे हैं। ऋषिकेश से वह सीधे कार से टिहरी पहुंचे। बीच में उन्होंने आगराखाल में पहाड़ी अदरक, लहसून भी खरीदा और रबड़ी मिठाई भी खाई। कोटी कालोनी बोटिंग प्वाइंट से यूनियन के संरक्षक कुलदीप पंवार ने उन्हें झील की सैर कराई।

लगभग एक घंटे तक उन्होंने परिजनों के साथ झील में साहसिक जलक्रीड़ा का आनंद लिया। झील का स्वच्छ पानी देखकर डा. विश्वास ने कहा कि गंगा हरिद्वार तक बिल्कुल साफ है। गंगा को स्वच्छ बनाए रखने के लिए सामूहिक कार्य करने पर जोर दिया जाना चाहिए।

टिहरी के कोटी कालोनी में झील किनारे स्थित बोटिंग केन्द्र पर बीते कुछ रोज से सैलानियों की आमद अच्छी खासी हो रही है। यहां पर रोजाना गुड़गांव, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, नोएडा, हरिद्वार एवं देहरादून आदि जगहों से पर्यटक साहसिक पर्यटन का आनंद लेने यहां पहुंच रहे हैं। जिसके चलते बोट व्यवसायियों के चेहरे खिल उठे हैं।

टिहरी झील बोट यूनियन के अध्यक्ष लखवीर चौहान ने बताया कि झील में बोटिंग करने के लिए पिछले एक माह से जहां रोजाना लगभग 200 से लेकर 300 पर्यटक पहुंच रहे थे, वहीं नये साल की पूर्व संख्या पर रिकाॅर्ड तोड़ पर्यटक झील का लुत्फ उठाने यहां पहुंच रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here