देहरादून। राज्य सरकार ने आज सार्वजनिक परिवहन के माध्यम से प्रदेश वासियों को बड़ी राहत दी है। सरकार ने ऑरेंज और ग्रीन जोन वाले जिलों में 50 प्रतिशत यात्री क्षमता के साथ सार्वजनिक परिवहन के संचालन को अनुमति प्रदान कर दी है। सूबे का परिवहन महकमा इसके लिए एसओपी जारी करेगा।

यदि कोई जनपद रेड जोन में आता है तो उस स्थिति में वहां सार्वजनिक परिवहन पूरी तरह से बंद रहेगा। अंर्तराज्यीय परिवहन सामान्य तौर पर प्रतिबंधित है, लेकिन उसके संचालन के लिए शर्तें तय की गई हैं।

उत्तराखण्ड में कोई भी जनपद रेड जोन में नहीं होने से अब पूरे प्रदेश में बसों सहित अन्य सार्वजनिक परिवहन का संचालन हो सकेगा। एक जनपद से दूसरे जनपद के बीच बसों के संचालन से लोगों को बड़ी मात्रा में राहत मिल सकती है। हालांकि वाहन की क्षमता को आधा कर दिया गया है।

उत्तराखण्ड सरकार ने अंर्तराज्यीय परिवहन के संचालन को भी सहमति दी है, जिसके लिए नोडल अधिकारी, मंडलायुक्त और जिला मजिस्ट्रेट की अनुमति जरूरी है।

सूबे के मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह की ओर से जारी आदेश में परिवहन विभाग को निर्देशित किया गया है कि सार्वजनिक परिवहन की एसओपी (स्टेंडर्ड ऑपरेंटिंग प्रोसिजर) तैयार कर लें, जिसके बाद संचालन शुरू हो सकेगा। संचालन में शारीरिक दूरी के मानकों का पूरी तरह से पालन होगा।

आठ नगरों में ऑड ईवन व्यवस्था

लॉकडाउन के चौथे चरण में अब वाहनों का संचालन होने लगेगा, लेकिन अधिक आबादी वाले आठ शहरों में निजी वाहनों का संचालन ऑड-ईवन नंबर प्लेट के हिसाब से होगा।

एक दिन ऑड नंबर और दूसरे दिन ईवन नंबर के चौपहिया वाहन चलाएं जा सकते हैं। वहीं, दोपहिया वाहन सभी दिन चल सकेंगे। उल्लंघन करने वालों का चालान काटने के अलावा अन्य सख्त कदम उठाए जा सकते हैं।

सरकार की ओर से बताया गया है कि सरकार ने सडक़ों पर वाहनों की सीमित संख्या रखने के लिए ऑड-ईवन की व्यवस्था बनाई है। जिलों को इस संबंध में निर्देश जारी किए जाएंगे, जिसके बाद यह व्यवस्था लागू कर दी जाएगी। यह व्यवस्था प्राइवेट वाहनों के लिए रहेगी।

यहां रहेगी ऑड-ईवन की व्यवस्था

देहरादून, ऋषिकेश, हरिद्वार, कोटद्वार, रुडक़ी, रुद्रपुर, काशीपुर एवं हल्द्वानी।

सरकार ने दी सभी दुकानें खोलने की अनुमति

लॉकडाउन पार्ट-4 के तहत राज्य सरकार ने ऑरेंज और ग्रीन जोन में आवश्यक वस्तुओं के अलावा अन्य दुकानों को खोलने की अनुमति दे दी है। हालांकि शॉपिंग कॉम्पलेक्स, रेस्टोरेंट, मॉल, सिनेमा घर, बार, होटल आदि पर लगी रोक बरकरार रहेगी। अन्य दुकानों को सुबह सात बजे से शाम चार बजे तक खोला जा सकता है।
सूबे के मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने बताया कि राज्य में कोई भी जिला रेड जोन में नहीं है, जिससे केंद्रीय गाइडलाइन के अनुरूप ऑरेंज और ग्रीन जोन में सभी दुकानों को खोला जा सकता है। सुबह सात से शाम चार बजे तक दुकान खोलने के प्रावधान में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

सरकारी कार्यालय संबंधी निर्देश

सरकारी कार्यालय खोलने और स्टाफ की उपस्थिति को लेकर पूर्व मे लॉकडाउन तीन में बनाई व्यवस्था ही लागू होगी। सुबह दस से शाम चार बजे तक कार्यालय खुलेंगे। शाम चार से अगली सुबह सात बजे तक लॉकडाउन की स्थिति रहेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here