श्रीनगर गढ़वाल। राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी ) उत्तराखंड ने एक और उपलब्धि हासिल की है। एनआईटी ने एम्स ऋषिकेश सहित देश के प्रतिष्ठित प्रशिक्षण संस्थानों से एमओयू (समझौता) किया है। इसके अलावा संस्थान जल्दी विदेश के संस्थानों के साथ भी एमओयू करने जा रहा है। बता दें कि इससे संस्थान के छात्रों, संकाय सदस्यों और कर्मचारियों को लाभ मिलेगा। एनआईटी का आगामी दो सितंबर को बीएचईएल के साथ एमओयू होने जा रहा है। एमओयू होने से छात्रों को प्लेसमेंट और प्रशिक्षण की सुविधा मिलेगी।

उल्लेखनीय है कि बीते 10 वर्ष से अस्थायी परिसर में संचालित हो रही NIT लगातार देश के ख्यातिलब्ध संस्थानों के साथ एमओयू कर रहा है। हाल में संस्थान ने एम्स ऋषिकेश के साथ एमओयू किया है। एमओयू की शर्तों के अनुसार, एम्स त्रषिकेश में एनआईटी के स्टाफ को इलाज में प्राथमिकता मिलेगी।

NIT संस्थान के निदेशक प्रो. श्याम लाल सोनी ने बताया कि इसके अलावा आईआईटी दिल्ली, आईआईपी देहरादून, आईआईटी रुड़की, एनआईटी जयपुर, मणिपाल यूनिवर्सिटी के साथ ही राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के साथ एमओयू हुए हैं। प्रो. सोनी ने बताया कि नजरबायेव यूनिवर्सिटी कजाकिस्तान और नार्थ डेकोटा स्टेट यूनिवर्सिटी यूएसए के साथ भी करार होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here