6 C
New York
Tuesday, June 22, 2021
Homeहमारा उत्तराखण्डमंत्री गणेश जोशी ने किया स्वास्थ्य केन्द्र कालसी, साहिया और चकराता का...

मंत्री गणेश जोशी ने किया स्वास्थ्य केन्द्र कालसी, साहिया और चकराता का निरीक्षण, कोविड उपचार का लिया जायजा

देहरादून जनपद के कोविड उपचार व्यवस्थाओं के प्रभारी मंत्री गणेश जोशी ने राजकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र कालसी, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र साहिया और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र चकराता का निरीक्षण कर उपचार व्यवस्थाओं का जायजा लिया साथ ही स्थानीय नागरिकों को मिल रही स्वास्थ्य सुविधाओं एवं चिकित्सकीय स्टाफ की उपलब्धता, टेस्टिंग की स्थिति तथा कोरोना उपचार किट की उपलब्धता इत्यादि के बारे में जानकारी ली।

इस दौरान क्षेत्रवासियों द्वारा टीकाकरण को आफलाइन करने का अनुरोध किया गया, जिस पर मंत्री ने कहा कि यह बहुत जरुरी हो गया है कि टीकाकरण आफलाइन हो, क्योंकि आनलाइन में पंजाब, चण्ड़ीगढ़ से लोग टीका लगवाने चकराता आ रहे हैं। उन्होनें कहा कि सरकार इस दिशा में जल्द फैसला लेगी।


जनपद प्रभारी मंत्री गणेश जोशी ने कहा इस आपदा के समय में मुख्यमंत्री लगातार स्वयं स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को मॉनिटर कर रहे हैं। कोविड संक्रमण के प्रति ग्रामीण क्षे़त्रों की संवेदनशीलता के दृष्टिगत ग्रामीण क्षेत्रों में पहले से मौजूद एैलोपैथिक, आयुर्वेदिक एवं युनानी अस्पतालों एवं डिस्पेंसरी इत्यादि को कोविड उपचार सुविधाओं से लेस किया जा रहा है। इस प्रकार ना सिर्फ कोविड महामारी जनित वर्तमान आवश्यकताओं बल्कि भविष्य में भी हम किसी स्वास्थ्य इमर्जेंसी से निपट के लिए ग्रामीण स्तर तक मजबूत स्वास्थ्य नेटवर्क विकसित कर रहे हैं।


उन्होंने बताया कि राजकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र कालसी में 6 चिकित्सक मौजूद हैं। यहां मंत्री द्वारा 20 बैड भेजे गये हैं, जिसके बाद अब यह अस्पताल 35 बैड का हो गया है। अस्पताल की प्रभारी चिकित्साधिकारी डा0 गरिमा भट्ट ने बताया कि अस्पताल में एक्सरे मशीन एवं कंसंट्रेटर के साथ-साथ आक्सीजन प्लांट लगाये जाने की नितान्त आवश्यकता है। मंत्री ने कहा कि वह मुख्यमंत्री ने वार्ता कर इस दिशा में सकारात्मक निर्णय लेंगे। उन्होंने ब्लाक प्रमुख मठौर सिंह के अनुरोध को स्वीकारते हुए दूरभाष पर स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी से वार्ता की और कहा कि इस अस्पताल को जल्द ही सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बनाया जाऐगा। इसके बाद मंत्री ने टीकाकरण स्थल का भी निरीक्षण किया और टीका लगाने आये व्यक्तियों से उनका हाल जाना।


सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सहिया में प्रभारी चिकित्साधिकारी विक्रम सिंह के नेतृत्व में चिकित्सकों द्वारा बताया गया कि इस अस्पताल में 60 से 70 की ओपीडी प्रतिदिवस होती है। उन्होनें अस्पताल में विशेषज्ञ चिकित्सकों एवं मेनपावर उपलब्ध कराने का अनुरोध कोविड प्रभारी मंत्री से किया। वर्तमान में इस अस्पताल में कुल 6 डाक्टर तैनात हैं। यह अस्पताल 180 गांवों का केन्द्र है। भाजपा मण्डल अध्यक्ष ने मंत्री ने अनुरोध किया कि 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण आफलाइन मोड में इस अस्पताल में भी किया जाए।


चकराता पहुंचने पर मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि हमारी सरकार ने पिछले तीन माह में प्रदेश में 800 से अधिक आईसीयू बैड बढ़ायें हैं और सरकार आमजन के स्वास्थ्य के प्रति अत्यधिक गम्भीर है। प्रभारी चिकित्साधिकारी डा0 केएस चैहान ने बताया कि अस्पताल में 10 बैड उपलब्ध हैं, जिसमें 05 बैड कोविड के लिए आरक्षित किये गये हैं। डिजीटल एक्सरे मशीन भी उपलब्ध है और अस्पताल का नया भवन बनाया जाना अति आवश्यक है। मंत्री ने प्रसुति कक्ष का निरीक्षण किया और वहां पर जच्चा-बच्चा के हाल जाने। उन्होंने अस्पताल में टीकाकरण किये जाने के लिए अपर सीएमओ को निर्देशित किया।

मंत्री को स्थानीय लोगों द्वारा बताया गया कि छावनी क्षेत्र में होने के कारण अस्पताल का पुर्ननिर्माण नहीं हो पा रहा है। जिस पर मंत्री द्वारा जीओसी उत्तराखण्ड सब एरिया से वार्ता की गयी और कहा कि उप जिलाधिकारी चकराता से समन्वय स्थापित करते हुए अस्पताल के निर्माण हेत कार्यवाही की जाए।
पूर्व राज्यमंत्री एवं भाजपा कार्यकर्ता प्रताप सिंह रावत ने कहा कि चकराता में पेयजल की किल्लत होने के कारण अत्यधिक परेशानी हो रही है। उनके द्वारा बताया गया कि जाड़ी एवं कण्डार से पेयजल योजनाऐं संचालित हैं किन्तु छावनी क्षेत्र को छोड़कर किसी अन्य को पर्याप्त पानी नहीं मिल पा रहा है।

मंत्री ने दूरभाष पर जीओसी उत्तराखण्ड सब एरिया को कहा कि सरकार द्वारा लैंसडाउन एवं रानीखेत कैंट के लिए जिस प्रकार पेयजल योजनाऐं स्वीकृत की है, इसी प्रकार छावनी क्षेत्र को पेयजल योजना की आवश्यकता होने पर वह राज्य सरकार को प्रस्ताव भेंजे, हम पेयजल मंत्री से इस सम्बन्ध में वार्ता करेंगे।
जिला महामंत्री अरुण मित्तल ने कहा कि देहरादून जनपद के प्रभारी मंत्री जिस सक्रियता के साथ लगातार जनपद में चारों ओर स्वयं पहुंच कर स्वास्थ्य सेवाओं का निरीक्षण कर रहे हैं, उससे स्पष्ट है कि तीरथ सिंह रावत के नेतृत्व चल रही राज्य की भाजपा सरकार कोविड महामारी के इस दौर में जन स्वास्थ्य के लिए कितनी संवेदनशील है। उन्होंने कहा कि प्रभारी मंत्री के चकराता-जौनसार क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवाओं की निगरानी एवं निरीक्षण कार्यक्रम स्वागत करते हुए कहा कि यह पूरे क्षेत्र में एक सकारात्मक संदेश भी दिया है।


इस अवसर पर उप जिलाधिकारी संगीता कनौजिया, एसीएमओ दिनेश चौहान, भाजपा नेता प्रताप सिंह रावत, ब्लाक प्रमुख मठोर सिंह, जिला पंचायत सदस्य बबीता चौहान, मीरा जोशी, प्रधान नीलम सवई, मण्डल अध्यक्ष अमर सिंह चैहान, मण्डल अध्यक्ष दाता राम शर्मा, मण्डल अध्यक्ष मोनिका अग्रवाल, भीम सिंह, रितेश असवाल, केशर चैहान, नरेश चैहान, कमलेश भट्ट, कृपाल सिंह नेगी, कलम सिंह चौहान आदि उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!