रुद्रप्रयाग। जनपद क्षेत्र के अगस्त्यमुनि विकासखण्ड के जगोठ गांव में सनसनीखेज वारदात सामने आई है। यहां पति ने पहले पत्नी को लाठी-डंडे से पीटकर मौत के घाट उतार दिया और इसके बाद फिर स्वयं भी फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। बताया जा रहा है कि दोनों का दो वर्ष पहले ही विवाह हुआ था।

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया है। बताया जा रहा है कि महिला का पति पिछले कुछ समय से मानसिक तनाव में था। मामले का खुलासा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही हो पाएगा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बीते बुधवार की सुबह लगभग आठ बजे जगोठ गांव निवासी बलदेव (33), पुत्र स्व. दर्शन लाल की अपनी पत्नी ज्योति उर्फ सोनाली (20) से किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। इस बीच पत्नी को कमरे में ले जाकर बलदेव ने अंदर से दरवाजा बंद कर दिया। इसके बाद पति पत्नी के बीच काफी देर तक झगड़ा होता रहा। उनके मकान के आसपास के लोगों ने भी हो-हल्ला सुना।

इसके कुछ समय बाद जब बलदेव की मां घर लौटीं तो उन्होंने अपने बेटे-बहू को आवाज लगाई पर उसका कोई उत्तर नहीं मिला। काफी देर तक जब खटखटाने पर भी उनके कमरे का दरबाजा नहीं खुला तो उन्होंने पास के अपने पड़ोसियों को बुलाया।

इसके बाद मौके पर पहुंचे लोगों ने खिड़की से अंदर देखा तो बलदेव रस्सी के सहारे लटका हुआ था। इसके तुरंत बाद उन्होंने पुलिस-प्रशासन को इस घटना की जानकारी दी। अगस्त्यमुनि से थानाध्यक्ष रवींद्र कुमार कौशल और ऊखीमठ से तहसीलदार श्रेष्ठ गुनसोला मयफोर्स मौके पर पहुंचे।

दरवाजा तोड़कर जब वह अंदर पहुंचे तो देखा कि जमीन पर ज्योति देवी खून से सनी हालत में मृत पड़ी थी। उसके पास ही खून से सनी लाठी भी पड़ी थी। वहीं बलदेव भी मृत हालत में फांसी पर झूल रहा था। पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर तहसीलदार की उपस्थिति में पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here