रूद्रप्रयाग। कल से केदारनाथ धाम के लिए हेली सेवा प्रारंभ हो जाएगी। एसओपी के अनुसार हेली सेवा से केदारनाथ जाने वाले यात्रियों के लिए ई-पास की अनिवार्यता नहीं होगी। आठ हेली कंपनियों के हेलीकॉप्टर कल शुक्रवार से उड़ान भरेंगे। बताया गया है कि सभी कंपनियों को धाम के लिए लगभग पचास प्रतिशत बुकिंग मिल चुकी हैं। सुबह छह बजे से गुप्तकाशी, सोनप्रयाग, मैखंडा, जामू-फाटा और बडासू से हेलीकॉप्टर केदारनाथ के लिए उड़ान भरेंगे।

ब्ताया गया है कि अब कपाट बंद होने तक धाम के लिए हेली सेवा जारी रहेगी। इसके साथ ही अब धाम में अधिक श्रद्धालु भी पहुंच सकेंगे। हेली कंपनियों का स्टॉफ व हेलीकॉप्टर चिहिृत हेलीपैड पर पहुंच चुके हैं। हेलीकॉप्टर सेवा के सहायक नोडल अधिकारी सुरेंद्र सिंह ने बताया कि केदारनाथ के लिए एरो एविएशन, पिनकल, चिप्सन, क्रिस्टल, थुंबी, हिमालयन समेत आठ हेली कंपनियां केदारघाटी में पहुंच चुकी हैं।

बताया कि ऐरो एविएशन द्वारा इस बार गुप्तकाशी व सोनप्रयाग हेलीपैड से धाम के लिए हेलीकॉप्टर सेवा संचालित की जा रही है। हेली कंपनियों को जरूरी दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। केदारनाथ के लिए प्रति यात्री किराया निर्धारित किया गया है। जिसमें गुप्त काशी से 3875 रुपये, फाटा से 2360, सिरसी से 2340 रुपये प्रति निर्धारित किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here