27.9 C
Dehradun
Saturday, July 24, 2021
Homeहमारा उत्तराखण्डकुंभ मेला 2021ः पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी और आनंद अखाड़े की निकली...

कुंभ मेला 2021ः पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी और आनंद अखाड़े की निकली भव्य पेशवाई, हेलीकॉप्टर और घरों की छतों से फूलों की बारिश

हरिद्वार। पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी और आनंद अखाड़े की भव्य पेशवाई निकलने के साथ ही बुधवार को हरिद्वार महाकुंभ का विधिवत आगाज हो गया। इस दौरान पेशवाई के स्वागत के लिए सड़क के दोनों ओर जनसैलाब उमड़ा पड़ा। दोनों अखाड़ों के आचार्य महामंडलेश्वरों और संतों पर हेलीकॉप्टर और घरों की छतों से फूलों की बारिश हुई।

दर्शकों ने जगह-जगह शोभायात्रा का स्वागत कर संतों का आशीर्वाद लिया। शोभायात्रा में शिव तांडव नृत्य, महिला बैंड, ऊंट, हाथी और शाही सिंहासन पर सवार संतों की झांकियां दर्शकों के आकर्षण का केंद्र रहीं। शहर में घूमने के बाद पेशवाई शाम छह बजे श्री निरंजनी अखाड़े की स्थायी छावनी पहुंची।

एसएमजेएन पीजी कॉलेज से सुबह करीब सवा दस बजे पेशवाई का शुभारंभ हुआ। इससे पहले मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अखाड़े के संतों के साथ पूजा-अर्चना की। इष्टदेव के पूजन के साथ बैंड बाजों की धुन, शिव तांडव नृत्य और डमरुओं की थाप से कॉलेज परिसर गूंज उठा। प्रसाद ग्रहण करने के बाद हर-हर महादेव के जयघोष के साथ पेशवाई निकली।

गोविंदपुरी कॉलोनी से मुख्य मार्ग पर चंद्राचार्य चौक तक लंबी पेशवाई में संतों की झांकियां शामिल थीं। सबसे आगे ऊंट, घोड़े और हाथी चल रहे थे। अलग-अलग 25 बैंड ने पूरा माहौल भक्तिमय बना दिया। श्री निरंजनी अखाड़े के आचार्य मंडलेश्वर कैलाशानंद गिरि, आनंद अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी बालकानंद गिरि ने अपने-अपने अखाड़ों का नेतृत्व किया। केंद्रीय राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति भी रथ में सवार थीं।

पूर्व निर्धारित रूट पर पेशवाई के पहुंचने से पहले ही दर्शकों की भीड़ जमा हो गई। सड़क के दोनों तरफ, डिवाइडर और घरों की छतों पर हर उम्र लोग शोभायात्रा देखने उमड़े। दर्शकों की सड़क पर लंबी कतार लगी रही। शोभायात्रा पहुंचने पर किसी ने फूल बरसाए तो किसी ने संतों का आशीर्वाद लिया। हेलीकॉप्टर और ग्लाइडर से भी जगह-जगह फूलों की बारिश हुई।

पूरे दिन शहर के निर्धारित रूट से होकर पेशवाई शाम करीब छह बजे श्री निरंजनी अखाड़े की छावनी में पहुंची। शोभायात्रा में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरि, श्री निरंजनी अखाड़े के सचिव श्रीमहंत रविंद्रपुरी, महामंडलेश्वर संतोषी माता, महामंडलेश्वर ललितानंद गिरि, महामंडलेश्वर विद्यानानंद गिरि, महामंडलेश्वर सोमेश्वरानंद गिरि, मेलाधिकारी दीपक रावत, आईजी संजय गुंज्याल, डीएम सी रविशंकर, एसएसपी सेंथिल अबुदई कृष्णराज एस आदि मौजूद थे।

शोभायात्रा देखने के लिए उमड़ी भीड़ में संतों के स्वागत करने के साथ ही सेल्फी का जबर्दस्त क्रेज दिखा। सेल्फी लेने के लिए दर्शक सड़क के बीचों-बीच डिवाइडर और ऊंचे स्थानों पर चढ़कर शोभायात्रा का इंतजार कर रहे थे। शोभायात्रा बैंडबाजों के साथ धीमी गति से शहर में घूमी। जैसे ही यात्रा दर्शकों के पास से गुजरी तो उन्होंने फूल बरसाने के साथ ट्रैक्टर-ट्राली पर बने रथों में सवार संतों के साथ दूर से सेल्फी ली। कइयों ने सगे संबंधियों और रिश्तेदारों को सोशल मीडिया पर लाइव होकर शोभायात्रा की झलक दिखाई।

पेशवाई में स्प्रे कोल्ड फायर शो (तेज आवाज के साथ आर्टिफिशियल फूल फेंकने वाली तोप) दर्शकों के लिए आकर्षण का केंद्र रही। मुजफ्फरनगर से आई तोप पेशवाई के साथ चल रही थी। बीच-बीच में इससे तेज आवाज के साथ आर्टिफिशियल फूल छोड़ गए। तोप संचालक आरिफ ने बताया कि इसमें आर्टिफिशियल प्लास्टिक के फूल फोड़े जाते हैं।

पेशवाई में श्री निरंजनी अखाड़े के नागा संन्यासियों की टोली दर्शकों के लिए आकर्षण का केंद्र रही। नागा संन्यासियों के हर-हर महादेव के जयकारों ने दर्शकों का उत्साह बढ़ा दिया। हाथों में त्रिशूल-डमरू, गले में फूलों और रुद्राक्ष की मालाएं पहने नागा संन्यासियों की टोली पेशवाई में संतों के आगे चल रही थी। नागा संन्यासियों को देखने के लिए दर्शक उत्साहित दिखे।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!