6 C
New York
Monday, April 12, 2021
spot_img
Homeहमारा उत्तराखण्डगैरसैंण उत्तराखंड विधानसभा सत्र: पांचवें दिन गन्ना मूल्य बढ़ाने की मांग को...

गैरसैंण उत्तराखंड विधानसभा सत्र: पांचवें दिन गन्ना मूल्य बढ़ाने की मांग को कांग्रेस विधायकों ने प्रदर्शन कर दिया धरना

गैरसैंण उत्तराखंड विधानसभा सत्र के दौरान पांचवें दिन आज गन्ना मूल्य बढ़ाने की मांग को लेकर कांग्रेस विधायकों ने परिसर के बाहर प्रदर्शन कर धरना दिया। इस अवसर पर विधायक प्रीतम सिंह, करण मेहरा, काजी निजामुद्दीन, ममता राकेश, आदेश चौहान समेत अन्य विधायकों ने प्रदर्शन किया। कांग्रेस विधायक का कहना है कि डीजल और पेट्रोल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं, लेकिन सरकार ने गन्ने का मूल्य नहीं बढ़ाया है।

शुक्रवार को सत्र की शुरुआत प्रश्नकाल के साथ हुई। वहीं इससे पहले मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत मीडिया से मुखातिब हुए। उन्होंने बजट में फोकस एरिया के बारे में जानकारी दी। कहा कि बजट में स्वस्थ्य उत्तराखंड, सुगम उत्तराखंड, सुरक्षित उत्तराखंड और स्वावलंबी उत्तराखंड पर फोकस किया गया है। स्वस्थ्य उत्तराखंड के लिए स्वास्थ्य के बजट में 34 प्रतिशत की व्रद्धि की गई है।

बच्चों को कुपोषण से बचाने के लिए महिला एवं बल विकास के बजट में 565 करोड़ का प्रावधान किया गया है। सुगम उत्तराखंड में मोटर पुलों के निर्माण के लिए 330 करोड़, सड़कों के रखरखाव के लिए 385 करोड़ की व्यवस्था की गई है। स्वावलंबी उत्तराखंड के लिए शिक्षा का बजट बढ़ाया गया है। गैरसैंण राजधानी क्षेत्र के विकास के लिए 350 करोड़ रुपए स्वीकृत हैं। वहीं, मुख्यमंत्री घस्यारी योजना से लेकर सौभाग्यवती योजना आदि के लिए पहली बार बजट में प्रविधान किया गया है।

वहीं शुक्रवार को सदन में बजट पर चर्चा की जाएगी। महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर विपक्ष कार्य स्थगत प्रस्ताव भी ला सकता है। सदन में किसानों के मुद्दे पर हंगामा होने के भी आसार हैं।

वहीं विधानसभा सत्र के चौथे दिन गुरुवार को सदन में चार विधेयक पारित किए गए है। जिसमें उत्तराखंड (उत्तर प्रदेश नगर निगम अधिनियम) संशोधन विधेयक, उत्तर प्रदेश नगर पालिका अधिनियम संशोधन विधेयक, उत्तराखंड (उत्तर प्रदेश जमींदारी विनाश एवं भूमि व्यवस्था अधिनियम) संशोधन विधेयक, उत्तराखंड पंचायती राज संशोधन विधेयक पारित किए गए।

पहली बार विधानसभा सत्र रविवार को अवकाश के दिन भी चलेगा। कार्य मंत्रणा समिति ने रविवार को सत्र चलाने का निर्णय लिया है। बृहस्पतिवार को संसदीय कार्य मंत्री मदन कौशिक ने सदन में कार्य मंत्रणा समिति की बैठक में लिए गए एजेंडे की जानकारी सदन को दी।

इससे पहले कार्य मंत्रणा समिति की बैठक में चार मार्च तक ही एजेंडा तय हुआ था। समिति ने तय किया कि रविवार को भी सत्र चलाया जाएगा। यह पहला मौका है जब रविवार को अवकाश के दिन भी विधानसभा सत्र चलेगा।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!