अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ऋषिकेश में बीते 24 घंटे में तीन व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पाजिटिव आने के मामले में इसमें शामिल दो मृतक रोगियों की रिपोर्ट आज पॉजिटिव मिली है। इसमें एक पौड़ी एवं एक रोगी मुजफ्फरनगर, उत्तर प्रदेश का शामिल है।

जनसंपर्क अधिकारी एम्स हरीश मोहन थपलियाल ने यह जानकारी देते हुए बताया कि पौड़ी गढ़वाल के गाड़ी घाट, कोटद्वार निवासी 61 वर्षीय एक व्यक्ति का सैंपल बीती 11 जून को लिया गया था। मरीज को यहां एम्स ऋषिकेश में 10 जून को फीवर एवं कोरोनरी आर्टरी डिजीज और हाइपरटेंशन की शिकायत होने पर भर्ती कराया गया था।

बीती 13 जून की देर रात्रि को रोगी की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई। जबकि बीती 12 जून को ही इलाज के दौरान इस रोगी की मृत्यु हो गई थी।

ऐसे ही बीती 13 जून की सुबह को मुजफ्फरनगर, उत्तर प्रदेश की 42 वर्षीया महिला को बेहोशी की हालत में एम्स में आपातकालीन सेवा में लाई गई थी। इस महिला का बीती 13 जून को ही कोरोना सैंपल लिया गया था। इधर, इस रोगी के परिजन चिकित्सकों की सलाह के विरुद्ध महिला को वापस घर ले गए।

इस बीच बीती 13 जून की रात को जब उक्त महिला की कोरोना जांच पॉजिटिव आई, तो फिर उसके घर संपर्क किया गया। लेकिन घर पर तब तक उस महिला की मृत्यु हो चुकी थी।

———————

देहरादून। यहां स्थित दून मेडिकल अस्पताल में एक और कोरोना संक्रमित रोगी की मौत हो गई। जबकि, उधर ऋषिकेश स्थित एम्स अस्पताल में दो कोरोना रोगियों की मौत हो गई।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक जीएमएस रोड निवासी 75 वर्षीय एक व्यक्ति को कुछ दिन से सांस लेने में दिक्कत हो रही थी। एक निजी अस्पताल के चिकित्सक की सलाह पर परिजनों ने उनका निजी लैब से कोरोना टेस्ट कराया। बीते गुरुवार को बुजुर्ग की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने देर शाम उन्हें दून अस्पताल में भर्ती करा दिया।

कोरोना के राज्य समन्वयक डा. एन0एस0 खत्री ने बताया कि उक्त रोगी को सांस लेने में बहुत परेशानी हो रही थी। अस्पताल पहुंचते ही उन्हें उपचार के लिए आईसीयू में भर्ती कराया गया और चिकित्सकों ने उनका उपचार शुरू किया, जहां देर रात उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई।

उधर, ऋषिकेश स्थित एम्स अस्पताल में भर्ती दो कोरोना रोगियों की मौत हो गई है, जिनमें एक 25 वर्ष का गाजियाबाद निवासी है, जबकि दूसरा 56 वर्ष का टिहरी जनपद के घनसाली का निवासी है। गाजियाबाद निवासी युवक का यात्रा इतिहास नोएडा बताया गया है।

जबकि टिहरी निवासी वयोवृद्ध मुबंई से अपने पूरे परिवार के साथ मुनिकीरेती पहुंचे थे। एम्स के जन संपर्क अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल ने इसकी पुष्टि की है।

COVID19 Update: आज मिले कोरोना के 37 मामले, संख्या पहुंची 1692
उत्तराखण्डः 30 जून के बाद शुरू होगी चारधाम यात्रा
मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजनाः  यहां से करें आॅनलाइन आवेदन
यह भी पढ़े-  कोरोना में कवच बनेगा संजीवनी ऐप
मौसम अपडेट-  प्रदेश में पांच जून को हो सकती भारी बारिश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here