देहरादून। प्रदेश सरकार ने कोविड-19 की जांच बढ़ाने के लिए 11.25 करोड़ से तीन हाईटेक मशीनें खरीदने का निर्णय लिया है। सरकार के इस निर्णय से अब कोरोना जांच में तेजी आ सकेगी। यह तीनों मशीनें दून, हल्द्वानी और श्रीनगर मेडिकल कॉलेज में स्थापित की जाएंगी।

कोविड-19 की प्रदेश में जांच बढ़ाने के लिए शुक्रवार को सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने 11.25 करोड़ से तीन हाईटेक मशीनें खरीदने को स्वीकृति प्रदान कर दी है। सरकार द्वारा यह धनराशि राज्य आपदा मोचन निधि से स्वीकृत की गई है। इस अत्याधुनिक एक मशीन से प्रतिदिन 800 सैंपलों की जांच की जा सकेगी।

तीन मशीन लगने से अब प्रतिदिन 2400 सैंपलों की जांच हो सकेगी। प्रदेश के दून, हल्द्वानी और श्रीनगर मेडिकल कॉलेज में वर्तमान में कोरोना जांच की क्षमता कम थी। इन मशीनों के लग जाने से अब इनकी क्षमता में वृद्धि होगी।

विदित हो कि इसके अलावा उत्तराखण्ड से 50 से 100 सैंपल जांच के लिए चंडीगढ़ की इम्पेक्ट लैब, नई दिल्ली स्थित एनसीडीसी लैब में ऊधमसिंह नगर एवं हरिद्वार से 300-300, नैनीताल से 100, लगभग 50 टेस्ट आईआईपी देहरादून की टेस्टिंग लेब सैंपल जांच के लिए भेजे जा रहे हैं।

जनपद स्तर पर 7 स्थानों पर ट्रू नेट मशीन स्थापित की गई है, जिनमें से चार ने कार्य शुरू कर दिया है। जबकि 11 मशीनों की और व्यवस्था की जा रही है। प्रभारी सचिव स्वास्थ्य डॉ.पंकज कुमार पांडेय के मुताबिक प्रदेश के इन तीन मेडिकल कॉलेजों में हाईटेक मशीनों की स्थापना एवं ट्रू नेट मशीनों की जनपद स्तर पर स्थापना से प्रदेश में कोरोना की जांच में तेजी आएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here