6 C
New York
Tuesday, April 13, 2021
spot_img
Homeहमारा उत्तराखण्डउत्तराखण्डः उत्तराखण्ड के नये मुख्यमंत्री होंगे तीरथ सिंह रावत

उत्तराखण्डः उत्तराखण्ड के नये मुख्यमंत्री होंगे तीरथ सिंह रावत

विधानमंडल दल की बैठक खत्म हो चुकी है। तीरथ सिंह रावत उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री होंगे। भाजपा ने प्रेस कांफ्रेंस में इसकी जानकारी दी।

गढ़वाल सांसद तीरथ सिंह रावत बने उत्तराखंड के नौवें मुख्यमंत्री, जाने उनके बारे में 

भाजपा की विधानमंडल दल की बैठक बुधवार को प्रदेश पार्टी कार्यालय में शुरू हो गई है। इस बैठक में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पद के लिए नए चेहरे का नाम तय होगा। विधानमंडल दल की बैठक में नया नेता चुनने के लिए केंद्रीय पर्यवेक्षक के रूप में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह और प्रदेश प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम देहरादून पहुंच गए हैं। पार्टी कार्यालय में प्रभारी समेत सूबे के तमाम विधायक एवं मंत्री पहुंच चुके हैं।

उत्तराखंड में अगले सीएम के लिए जिन चार नामों की चर्चा सबसे ज्यादा है, उनमें केंद्रीय शिक्षा मंत्री और हरिद्वार सांसद रमेश पोखरियाल निशंक का नाम सबसे आगे है। आरएसएस पृष्ठभूमि से आने वाले राज्य के उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत, प्रदेश के पर्यटन मंत्री सतपाल महराज और पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट के नाम भी प्रमुखता से चर्चा में हैं।

मुख्यमंत्री पद से त्रिवेंद्र सिंह रावत के इस्तीफे के बाद सियासी हवाओं में चर्चा तैर रही है कि बुधवार को भाजपा विधानमंडल दल की बैठक में पार्टी उप मुख्यमंत्री का चुनाव भी कर सकती है। माना जा रहा है कि पार्टी संतुलन साधने के लिए इस कवायद को अंजाम दे सकती है। नए मंत्रिमंडल में चेहरे बदलने की संभावनाएं भी जताई जा रही है।

उत्तराखंड में सत्ता की कमान किस नेता के हाथों में सौंपी जाएगी, अभी यह रहस्य बना हुआ है। लेकिन सूत्र यह दावा कर रहे हैं कि सरकार मुख्यमंत्री के साथ उप मुख्यमंत्री बनाने का प्रयोग कर सकती है। यदि ऐसा हुआ तो उत्तराखंड में पहली बार कोई उपमुख्यमंत्री बनाया जाएगा। इस पद के लिए खटीमा के विधायक पुष्कर सिंह धामी का नाम भी चर्चाओं में रहा। हालांकि पार्टी के सूत्रों ने डिप्टी सीएम बनाए जाने की संभावना से इंकार किया है। इसके अलावा पार्टी में नए मंत्रिमंडल में चेहरे बदलने की संभावना जताई जा रही है।

त्रिवेंद्र कैबिनेट में कांग्रेस छोड़कर भाजपा के टिकट पर चुनाव जीते सतपाल महाराज, सुबोध उनियाल, डॉ. हरक सिंह रावत, यशपाल आर्य व रेखा आर्य मंत्री हैं। इनके अलावा अरविंद पांडेय और डॉ. धनसिंह रावत भाजपा की पृष्ठभूमि से कैबिनेट में हैं। सूत्रों के मुताबिक, नए चेहरे के हाथों में कमान आने के बाद यह मंत्रिमंडल पद से कुछ मंत्रियों की छुट्टी हो सकती है और कुछ नए चेहरे शामिल हो सकते है।

बीजापुर गेस्ट का सेफ हाउस मंगलवार की शाम को मंत्रियों और पार्टी के पदाधिकारियों का ठिकाना बन गया था। देर रात तक यहां मंत्री धन सिंह रावत से लेकर तमाम आला पदाधिकारी आपसी मंत्रणा में जुटे रहे। यहीं रात को प्रदेश के भावी मुख्यमंत्री पर मौखिक फैसला हो गया। अब बुधवार को होने वाली बैठक में इसका असर दिखेगा।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र के इस्तीफे के बाद सूबे में सियासी हलचल तेज हो गई। नए मुख्यमंत्री की ताजपोशी को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया। चर्चाओं के बीच एक ओर मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने मंत्री रेखा आर्य, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत से बातचीत की तो दूसरी ओर शाम को सभी सेफ हाउस में पहुंच गए थे।

यहां धीरे-धीरे पार्टी के विधायकों और पदाधिकारियों के आने का सिलसिला शुरू हो गया। पार्टी के कई वरिष्ठ पदाधिकारी भी सेफ हाउस में ही मंथन में जुटे रहे। खबर लिखे जाने तक सेफ हाउस में मंथन जारी था। माना जा रहा है कि रात को ही आम सहमति बन गई। अब औपचारिक तौर पर विधानमंडल दल की बैठक में इस पर मुहर लग जाएगी।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!