29.8 C
Dehradun
Sunday, July 25, 2021
Homeहमारा उत्तराखण्डसीएम तीरथ का दिल्ली दौरा, राष्ट्रपति समेत कई केंद्रीय मंत्रियों से की...

सीएम तीरथ का दिल्ली दौरा, राष्ट्रपति समेत कई केंद्रीय मंत्रियों से की मुलाकात

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत आज से अपने दो दिवसीय दिल्ली भ्रमण पर रवाना हो गए हैं। इस दौरान सीएम दिल्ली में कई केन्द्रीय मंत्रियों से मुलाकात कर प्रदेश के विकास को लेकर कई योजनाओं पर चर्चा करेंगे।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने आज राष्ट्रपति भवन में महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से शिष्टाचार भेंट कर प्रदेश भर कोरोना महामारी के सामान्य होने पर उन्हें चारधाम यात्रा के लिए आमंत्रण दिया।

इस अवसर पर सीएम ने राष्ट्रपति को केदारनाथ व बद्रीनाथ मंदिर की प्रतिकृति और शाॅल भेंट की। उन्होंने कोरोना की स्थिति सामान्य होने पर चारधाम यात्रा के लिए आमंत्रित भी किया। सीएम श्री रावत ने आज राष्ट्रपति से मुलाकात करने के बाद केन्द्रीय वित मंत्री निर्मला सीतारमण से भेंट की।

सीएम श्री रावत ने आज राष्ट्रपति से मुलाकात करने के बाद केन्द्रीय कपड़ा, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती स्मृति ईरानी से भेंट कर राज्य में क्राफ्ट टूरिज्म विलेज स्थापित करते हुए इसे होम स्टे से जोड़ने व प्रदेश की कला ऐपण पर विशेष चर्चा की। उनके द्वारा प्रदेश में वन स्टाप कारीगर मेलों का आयोजन करके इनमें स्थानीय कारीगरों के प्रशिक्षण व उन्हें आधुनिक जानकारियां देने, लोकल आर्गेनिक उत्पादों को प्रोत्साहित करने व 1-7 अगस्त तक प्रत्येक जिले में हैंडलूम मेलों का आयोजन कर इन्हें ई-कामर्स से जोड़ने का सुझाव दिया गया।

इसी प्रकार स्थानीय कारीगरों को लाभान्वित करने के लिए 1 से 15 अगस्त तक टेक्सटाइल मेले आयोजित करने तथा हर जिले में एक लोकल प्रोडक्ट को चिन्हित कर उसे प्रोत्साहित करने के लिए भी कहा गया है। सीएम ने बताया कि केन्द्रीय मंत्री श्रीमती स्मृति ईरानी ने स्वयं टेक्सटाइल मेले में आने के लिए आश्वस्त किया है।

सीएम ने उन्हें वात्सल्य योजना, प्रदेश में संचालित महिला एवं बाल विकास से संबंधित विभिन्न योजनाओं के बारे में अवगत कराया। उन्होंने वन स्टाप सेंटर को महत्वपूर्ण योजना बताया तथा निर्भया योजना से संबंधित राज्य सरकार के प्रस्तावों को मंजूरी देने का भरोसा दिया।

सीएम तीरथ सिंह रावत ने वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण से भेंट कर विभिन्न विषयों पर चर्चा की। सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री Narendra Modi के मार्गदर्शन में उत्तराखण्ड में कई विकास परियोजनाओं पर तेजी से काम चल रहा है।

बताया कि GST के लागू होने के बाद राज्य को राजस्व हानि उठानी पड़ी थी। इसलिए राज्य को GST कम्पनसेशन मंजूर किया गया था, परंतु इस कम्पनसेशन की अवधि जून 2022 में समाप्त होने जा रही है। कोविड की आपात स्थिति में राज्य के वित्तीय संसाधनों पर विपरीत प्रभाव पड़ा है।

सीएम ने इस अवसर पर राज्य की विषम परिस्थितियों और सीमित आर्थिक संसाधनों को देखते हुए GST कम्पनसेशन की अवधि को जून 2022 से आगे और पांच वर्ष बढाने का अनुरोध किया। वित्त मंत्री ने राज्य की हरसम्भव सहायता करने का आश्वासन दिया है।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!