23.2 C
Dehradun
Tuesday, November 29, 2022
Homeहमारा उत्तराखण्डबागेश्वरसीएम का कुमाऊँ दौरा: पीपीई किट पहन सीएम तीरथ ने जाना मरीजों...

सीएम का कुमाऊँ दौरा: पीपीई किट पहन सीएम तीरथ ने जाना मरीजों का हाल

उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत आज रविवार से दो दिवसीय भ्रमण के तहत कुमांउ दौरे पर हैं। इस दौरान सीएम कोविड उपचार की तैयारी एवं टीकाकरण कार्यक्रम की भी समीक्षा करेंगे। इसके अलावा मुख्यमंत्री जनपदीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करेंगे।

रविवार को आज बागेश्वर पहुंचकर सीएम श्री रावत ने पीपीई किट पहनकर जिला अस्पताल के कोविड वार्ड में मरीजों से बातचीत कर उनका हालचाल जाना। कहा कि सरकारी स्तर पर कोरोना संक्रमण को रोकने और मरीजों की सहायता के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं।

राज्य में कोविड के मामलों में कमी भी आ रही है। जल्द ही राज्य इस महामारी से बाहर निकलेगा। इसके बाद उन्होंने पं0 बद्रीदत्त पाण्डे राजकीय स्नातक महाविद्यालय बागेश्वर में बनाए गए कोविड केयर सेंटर का भी निरीक्षण किया गया और अधिकारियों को जरूरी दिशा-निर्देश दिए गए।

सीएम ने बागेश्वर जनपद के एक दिवसीय भ्रमण के दौरान आज जिला चिकित्सालय के निरीक्षण के उपरान्त विकास भवन सभागार में जनपद में कोविड संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए किए जा रहे कार्यों की संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक कर समीक्षा की।

मुख्यमंत्री ने बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिए कि संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए ग्राम स्तर पर गठित निगरानी समितियों को और अधिक बेहतर ढंग से कार्य करने के लिए प्रेरित करें और लक्षण दिखने पर लोगों को स्वास्थ्य परीक्षण करवाने के लिए जागरूक करें और उसे आइवरमेक्टिन उपलब्ध करवाएं।

सीएम ने अधिकारियों को अधिक से अधिक सैंपलिंग करने व मानसून के दृष्टिगत सभी संबंधित विभागों को अपनी-अपनी पूर्ण तैयारी करने के निर्देश दिए। कहा कि संकट की इस घड़ी में बेहतर से बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध हो, इसके लिए सरकार निरंतर प्रयासरत है।

इसके बाद सीएम ने आज पिथौरागढ़ के बेस चिकित्सालय और जिला चिकित्सालय का निरीक्षण किया। इस दौरान कोविड वार्ड में मरीजों से बातचीत कर उनका हालचाल जाना। कहा कि मरीजों को सभी सुविधाएं प्रदान की जा रही है। उत्तराखंड को कोरोना मुक्त करने के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं।

बताया कि गांवों में संक्रमण को रोकने के लिए निगरानी समिति को मजबूत किया जा रहा है और स्वास्थ्य किट बांटे जा रहे हैं। विभागीय और आउटसोर्सिंग से रिक्त पदों को भरा जा रहा है साथ ही दवाइयों की कमी को भी दूर किया जा रहा है। प्रदेशवासियों के स्वास्थ्य की सुरक्षा के प्रति राज्य सरकार प्रतिबद्ध है।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!