ऋषिकेश। चौदह बीघा ढालवाला क्षेत्र को विश्व बैंक पोषित पेयजल योजना के अलावा सीवर और सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट से जोड़ा जाएगा। इससे क्षेत्र को काफी पुरानी समस्याओं पानी व सीवर से निजात मिल सकेगी।

मंगलवार को मुनिकीरेती पालिका के सभागार में आयोजित कार्यशाला में कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने इन योजनाओं के मास्टर प्लान को जाना और संबंधित विभागीय अधिकारियों के संग गहनता से विचार विमर्श किया।

कार्यशाला को संबोधित करते हुए कैबिनेट मंत्री ने बताया कि चौदह बीघा-ढालवाला क्षेत्र में पिछले काफी समय से पानी एवं सीवर की समस्या जस की तस बनी है। कहा कि सीवर ट्रीटमेंट प्लांट ना होने के कारण पूर्व में केंद्र सरकार ने सीवर लाइन के प्रस्ताव को रद्द कर दिया था। इस दौरान कैबिनेट मंत्री ने मास्टर प्लान कंसल्टेंट दीपक शर्मा को सीवर व सालिड वेस्ट मैनेजमेंट योजना का फंड मिलने के बाद तत्काल सर्वे शुरू करने के लिए कहा।

इसके बाद कार्यशाला में पेयजल निगम के अधिशासी अभियंता सीताराम ने चौदह बीघा- ढालवाला में बिछाई जा रही पेयजल योजना की जानकारी दी। बताया कि इस पेयजल योजना के तहत प्रति व्यक्ति को 135 लीटर पानी दिया जा रहा है। साथ ही लो प्रेशर की समस्या से भी निजात मिलेगी।

मौके पर पालिकाध्यक्ष रोशन रतूड़ी, सभासद गजेंद्र सजवाण, विनोद सकलानी, मनोज बिष्ट, सुषमा नेगी, वंदना थलवाल, पेयजल निगम के सहायक अभियंता, जीतमणि बेलवाल, अपर सहायक अभियंता विनोद आगरी, अजय रमोला आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here