6 C
New York
Tuesday, April 13, 2021
spot_img
Homeचारधाम यात्राकेदारनाथ धामचारधाम यात्रा: केदारनाथ धाम हेलीसेवा के लिए इस साल एक अप्रैल से...

चारधाम यात्रा: केदारनाथ धाम हेलीसेवा के लिए इस साल एक अप्रैल से बुकिंग शुरू

केदारनाथ धाम हेलीसेवा के लिए इस साल एक अप्रैल से बुकिंग शुरू होने जा रही है। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने इसे अपनी स्वीकृति दे दी है। तीर्थयात्री इस साल पुरानी दरों पर ही हेलीसेवा का लाभ ले सकेंगे।  

नागरिक उड्डयन सचिव दिलीप जावलकर ने बताया कि बुकिंग शुरू करने के लिए मुख्यमंत्री की अनुमति प्राप्त हो गई है। जीएमवीएन के जरिये ही हेली टिकट की ऑनलाइन बुकिंग होगी। विभाग ने गत वर्ष चयनित ऑपरेटर से तीन साल तक सेवा देने का अनुबंध किया है, इस प्रकार पूर्व में तय ऑपरेटर, पिछले साल के किराये पर ही इस साल भी सेवाएं देंगे।

70 फीसदी टिकट ऑनलाइन उपलब्ध कराएं जाएंगे। गत वर्ष कोविड के कारण शुरुआत में चार धाम यात्रा संचालित नहीं हो पाई थी। हालांकि बरसात के बाद करीब एक महीने धाम में हेली सेवाओं का संचालन हुआ। बता दें कि केदारनाथ धाम के कपाट 17 मई से खोले जा रहे हैं, इस बार ज्यादा श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद जताई जा रही है।

प्रति व्यक्ति एक साइड का किराया

गुप्तकाशी से – 3875 रुपये
फाटा से – 2360 रुपये
सिरसी से – 2340 रुपये

बुकिंग के लिए वेबसाइट: https://heliservices.uk.gov.in/

केदारनाथ पुनर्निर्माण के दूसरे चरण के निर्माण कार्यों की कवायद तेज हो गई है। साथ ही मंदाकिनी नदी पर गरूड़चट्टी को जोड़ने के लिए बनाए जा रहे पुल को जोड़ने के लिए डीडीएमए ने भी मजदूर धाम भेज दिए हैं।

120 करोड़ में होने वाले निर्माण कार्यों को अगले डेढ़ वर्ष में पूरा किया जाएगा। जिसमें पुलिस थाना, अस्पताल, देवस्थानम बोर्ड का कार्यालय, रावल निवास, पुजारी निवास व धर्मशाला सहित मंदाकिनी नदी किनारे आस्था पथ पर क्यू मैनेजमेंट शामिल है।

अधिशासी अभियंता डीडीएमए, लोनिवि गुप्तकाशी प्रवीण कर्णवाल का कहना है कि केदारनाथ में पुनर्निर्माण के दूसरे चरण में होने वाले निर्माण कार्यों के लिए सामग्री पहुंचाने का काम शुरू हो गया है। साथ ही मंदाकिनी नदी पर पुल को जोड़ने के लिए मजदूर भेज दिए गए हैं। अप्रैल प्रथम सप्ताह से सभी निर्माण कार्य शुरू कर दिए जाएंगे।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!