अमेजाॅन पर ‘बदरीनाथ प्रसाद’ की ऑनलाइन मार्केटिंग पर रोक लगा दी गई है। उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम बोर्ड ने ‘बदरीनाथ प्रसाद’ के नाम से ऑनलाइन मार्केटिंग पर रोक लगाते हुए जिलाधिकारी चमोली को इस सम्बन्ध में निर्देश दे दिए गए हैं। कहा गया है कि अमेजॉन पर ‘बदरीनाथ प्रसाद’ की जगह बदरीश तुलसी और चंदन के नाम से ऑनलाइन बिक्री की जाए और उस पर उत्पाद का विवरण भी लिखा जाए।

विदित हो कि चमोली जिला प्रशासन ने अमेजाॅन पर ‘बदरीनाथ प्रसाद’ की ऑनलाइन मार्केटिंग शुरू की थी। पंच बदरी प्रसाद के बैग में सरस्वती नदी का जल, लक्ष्मी के रूप में बदरीश तुलसी, हर्बल धूप, बद्री गाय का घी, हिमालयन डेमेस्क गुलाब का जल, अमेजन पर ऑनलाइन बेचा जा रहा है। बता दें कि इसके बाद स्थानीय पंडा समाज और तीर्थ पुरोहितों ने बदरीनाथ का नाम इस्तेमाल होने पर आपत्ति जताई थी। बोर्ड की ओर से जिलाधिकारी को निर्देश दिए गए हैं कि ‘बदरीनाथ प्रसाद’ के रूप में स्थानीय उत्पादों को ऑनलाइन न बेचा जाए।

देवस्थानम बोर्ड के सीईओ रवि नाथ रमन ने बताया कि ऑनलाइन मार्केट में बदरीनाथ के नाम से प्रसाद न बेचने के निर्देश दिए गए हैं। प्रसाद की जगह बदरीश तुलसी, चंदन व अन्य उत्पाद ऑनलाइन बेचे जा सकते हैं। उत्पाद के साथ विवरण भी लिखना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here