पतंजली योगपीठ में आज योग गुरु बाबा रामदेव ने दावा किया है कि उन्होंने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए आयुर्वेदिक दवा इजाद कर ली है। इस मौके पर बाबा रामदेव ने यह आयुर्वेदिक दवा लांच की।

Patanjali Yogpeeth हरिद्वार में आज मंगलवार को प्रेस कान्फ्रेंस में योग गुरु बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण ने पतंजलि आयुर्वेद की औषधि दिव्य कोरोनिल टैबलेट का कोरोना संक्रमित मरीजों पर क्लीनिकल ट्रायल के परिणामों की घोषणा की।

पतंजलि की ओर से दावा किया गया है कि कोरोना टैबलेट पर हुआ यह शोध पतंजलि रिसर्च इंस्टीट्यूट हरिद्वार और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस जयपुर के साझा प्रयासों का परिणाम है। बताया कि प्रदेश में ही दिव्य कोरोनील टैबलेट का निर्माण आयुर्वेद लिमिटेड हरिद्वार में किया जा रहा है।

  यह भी जानें-  प्रदेश में कोरोना के आज मिले 103 मामले, अब तक 2505

योगगुरु बाबा रामदेव की पतंजलि कंपनी का दावा है कि कोरोना वायरस को खत्म कर देने वाली यह औषधी पूरी तरह से आर्युवेदिक है, इसका नाम कोरोनिल रखा गया है। बाबा रामदेव ने कहा कि पूरे शोध के साथ हमने इसे निर्मित किया है। दवा का 100प्रतिशत रिकवरी रेट और शून्य प्रतिशत डेथ रेट है।

कहा कि भले ही लोग अभी Patanjali Yogpeeth से इस दावे पर प्रश्न करें, हमने सभी वैज्ञानिक नियमों का पालन किया है और हमारे पास इस बारे में हर सवाल का जवाब उपलब्ध है।

  जानें-  एम्स ऋषिकेश व आईआईटी रुड़की ने तैयार किया प्राणवायु पोर्टेबल वेंटिलेटर सिस्टम

बताया गया है कि अभी 100 लोगों पर दवा का ट्रायल किया गया, जो सभी 15-65 आयु वर्ग के हैं। जल्द ही क्रिटिकल मरीजों पर सेकंड ट्रायल किया जाएगा। अणुनासिका तेल तीन से पांच बूंद नाक में डालने से श्वास नलिका में कोरोना के प्रभाव को खत्म कर देता है। बाबा रामदेव ने दावा किया कि ये दवा ब्लडप्रेशर, हार्ट बीट और नाड़ी को भी कंट्रोल करने के साथ आदमी के श्वसन तंत्र को भी मजबूती प्रदान करती है।

बाबा ने कहा कि इस दवा में सिर्फ देसी सामान का उपयोग किया गया है, जिसमें तुलसी, अश्वगंधा, श्वासरि, मुलैठी-काढ़ा समेत गिलोय का भी उपयोग किया गया है। बताया कि लोग अगले सात दिनों में पतंजलि के स्टोर से यह दवा ले सकते हैं, इसके अलावा सोमवार को एक Ordernil APP ऐप लॉन्च किया जाएगा, जिससे यह दवा घर-घर पहुंचाई जा सकेगी।

Patanjali Yogpeeth के योगगुरु ने दावा किया है कि यह दवा प्रयोग के तीन दिनों के भीतर 69 प्रतिशत मरीज रिकवर हुए हैं। प्रेस कान्फ्रेंस में बाबा रामदेव ने कोरोना वायरस की तीन दवा श्वासारी बटी, दिव्य कोरोनिल टैबलेट और अणुनासिका तेल लांच की, जिनका उपयोग एक साथ करना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here