अटल उत्कृष्ट विद्यालयों में कक्षा 5 तक मातृ भाषा में होगा पठन-पाठन: पाण्डेय

0
785
अटल उत्कृष्ट विद्यालयों में कक्षा 5 तक मातृ भाषा में होगा पठन-पाठन: पाण्डेय

पिथौरागढ़। यहाँ भ्रमण पर पंहुचे शिक्षा मंत्री अरविन्द पाण्डेय द्वारा रविवार को विकासखण्ड पिथौरागढ़ के अटल उत्कृष्ट विद्यालय के रूप में चयनित राजकीय इंटर कॉलेज थरकोट में आयोजित कार्यक्रम में अटल उत्कृष्ट विद्यालय का शुभारंभ किया गया। जिले में प्रत्येक विकास खण्ड में 2, कुल 16 अटल उत्कृष्ट विद्यालय सरकार द्वारा खोले जा रहे हैं, जिसमें से 10 विद्यालयों की सीबीएससी से मान्यता भी प्राप्त हो गई है।

इन सभी अटल आदर्श विद्यालयों का रविवार को प्रदेश के माननीय विद्यालयी शिक्षा मंत्री द्वारा किया गया। जिले में ये विद्यालय राजकीय इंटर कालेज थरकोट, राजकीय इंटर कॉलेज देवलथल, राजकीय इंटर कॉलेज नारायणनगर, राजकीय इंटर कॉलेज- बड़ाबे, झुलाघाट, बरम, नाचनी, गणाई, जौरासी, गंगोलीहाट, डीडीहाट बलुवाकोट, मुनस्यारी, बेरीनाग, जाबुकाथल व गोरंगचौड़ है।

अटल आदर्श राजकीय इंटर कॉलेज थरकोट में आयोजित उद्घाटन कार्यक्रम में अपने संबोधन में विद्यालयी शिक्षा मंत्री ने कहा कि अटल उत्कृष्ट विद्यालय खोलने का सरकार का मुख्य उद्देश्य है कि प्रदेश के हर एक उस गरीब परिवार के बच्चे को भी बेहतर से बेहतर शिक्षा अर्थात अंग्रेजी माध्यम से शिक्षा प्राप्त हो सके, जिसमें हर किसी को आसानी से अब आधुनिक वक्त की मांग के अनुसार शिक्षा प्रदान करना है, जो उत्तराखंड सरकार द्वारा साकार किया गया है।

प्रदेश में चयनित हैं 190 अटल उत्कृष्ट विद्यालय

उन्होंने अवगत कराया कि इन चयनित अटल उत्कृष्ठ विद्यालय में अब केद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएससी) से मान्यता प्राप्त होने के कारण विद्यालय में अंग्रेजी माध्यम से शिक्षण व्यवस्था संचालित होगी, जिससे निर्धन परिवार के बच्चे भी अंग्रेजी भाषा में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा ग्रहण कर पाएंगे।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में चयनित 190 अटल उत्कृष्ट विद्यालय हैं। शिक्षकों के 797 पदों की आवश्यकता है, इनकी पूर्ति हेतु 3950 अध्यापक व अध्यापिकाओं द्वारा आवेदन किया है, जिनकी स्क्रीनिंग आगामी 15 जुलाई को होगी। जिससे अटल उत्कृष्ट विद्यालयों को योग्य शिक्षक तैनात हो जाएंगे।

शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने कहा कि उत्तराखंड बोर्ड द्वारा संचालित विद्यालयों को सीबीएसई बोर्ड द्वारा मान्यता मिलने से विद्यालय में अब स्मार्ट क्लासेस के अलावा अन्य अत्याधुनिक पद्धति से जुड़ी शिक्षा भी प्रदान की जाएगी। शिक्षा मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य में सभी को समान अवसर प्रदान करने, सबको अच्छी शिक्षा प्रदान करने, शैक्षणिक कार्यों में उत्कृष्टता लाने, शैक्षिक गुणवत्ता बढ़ाने और शिक्षा के उन्नयन के लिए कार्य कर रही है, जिसके परिणाम स्वरूप ही नीति आयोग की सर्वे में राज्य उत्कृष्ठ शिक्षा की दिशा में देश में चौथे स्थान पर रहा है, हम सभी इसी प्रकार मेहनत से कार्य करते रहेंगे तो निश्चित रूप से अगले वर्ष की सर्वे में देश में प्रथम स्थान पर रहेंगे।

कक्षा 6 से शत प्रतिशत अंग्रेजी माध्यम में पठन-पाठन का कार्य

इस हेतु सरकार का लक्ष्य भी इसे प्रथम स्थान पर पंहुचाने का है। उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति का आकलन करते हुए अटल उत्कृष्ट विद्यालयों में कक्षा पाॅच तक मातृ भाषा में पठन-पाठन किया जाएगा। कक्षा 6 से शत प्रतिशत अंग्रेजी माध्यम में पठन-पाठन का कार्य किया जाएगा।

उन्होंने सभी शिक्षक व शिक्षिकाओं से कहा कि यहॉं के बच्चों का भविष्य उत्कृष्ट हो इस हेतु पूर्ण लगन, कर्तब्यनिष्ठा एवं ईमानदारी से पठन पाठन का कार्य कराया जाय। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के कारण आफ लाईन एडमिशन नहीं हो पाने के कारण अब आनलाइन एडमिशन पोर्टल educationportal.uk.gov.in की भी शुरुआत कर दी गयी है।

सभी अध्यापक व अध्यापिका गांव -गांव जाकर लोगों को प्रेरित कर इन विद्यालयों में प्रवेष बढ़ाएं। विद्यालयी शिक्षा मंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा प्रदेश में शिक्षा की गुणवत्ता के लिए निरंतर कार्य करने के साथ ही विभाग में पूर्ण पारदर्शिता लाई गई है। इस अवसर पर अटल आदर्श विद्यालय थरकोट एवं गौरंगचौड़ में शिक्षा मंत्री, विधायक पिथौरागढ़, अध्यक्ष जिला पंचायत एवं अन्य अतिथियों द्वारा पौधारोपण भी किया गया।

चिपको आंदोलन की जननी माँ गौरा देवी को किया याद

इस मौके पर शिक्षा मंत्री ने कहा कि हम सभी को प्रकृति को हरा भरा व प्रदूषण मुक्त बनाने हेतु अधिक से अधिक पौधारोपण करना होगा, हमें आने वाली पीढ़ी को रक बेहतर संदेश देने के लिए अपने सुनहरे पलों को और अधिक यादगार बनाने के लिए इस दिन पौधों का रोपण करना होगा। मंत्री ने चिपको आंदोलन की जननी माँ गौरा देवी को याद करते हुए कहा कि हम उन्हीं की याद में यह पौधारोपण अभियान चला रहे हैं। हम सभी को उन्हीं की तरह पेडों की रक्षा करनी होगी, तभी धरती बचेगी। उन्होंने कहा कि प्रकृति का संरक्षण एवं संवर्धन करना हम सभी का नैतिक दायित्व है।

इस अवसर पर विधायक पिथौरागढ़ चंद्रा पंत ने कहा कि शिक्षा का विकास होकर ही समाज का विकास होगा। उन्होंने कहा कि अटल उत्कृष्ट विद्यालयों से यहाँ के दूरस्थ क्षेत्रों तक के बच्चों को आगे बढ़ने का अवसर प्राप्त होगा। इस अवसर पर माननीय मन्त्री एवं विधायक द्वारा जनपद वासियों को हरेला पर्व की बधाई भी दी।

इस अवसर पर अध्यक्ष जिला पंचायत दीपिका बोहरा द्वारा भी अपने संबोधन में कहा कि अटल उत्कृष्ट विद्यालय के खुलने से जिले में शिक्षा के क्षेत्र में विकास होने के साथ ही गरीब घर के बच्चे को भी सरकारी विद्यालयों में अंग्रेजी माध्यम से पढ़ने का अवसर प्राप्त होगा। जिससे प्रतिभाशाली बच्चों को आगे बढ़ने का मौका प्राप्त होगा।

इस अवसर पर जिलाधिकारी आनन्द स्वरूप ने सभी को बधाई देते हुए कहा कि इन विद्यालयों की स्थापना जिन उद्देश्यों को लेकर की गई है, वह निश्चित तौर पर उसमें पूर्ण सफ़ल होगी। उन्होंने माननीय शिक्षा मन्त्री से इन विद्यालयों में समस्त सुविधाएं उपलब्ध कराने की मांग की गई।

अटल आदर्श राजकीय इंटर कॉलेज डीडीहाट में आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित क्षेत्रीय विधायक व पेयजल मंत्री  विशन सिंह चूफाल ने बधाई देते हुए कहा कि निश्चित रूप से इन विद्यालयों के खुलने से यहां के दूरस्थ क्षेत्र के बच्चों को अंग्रेजी माध्यम से पढ़ने का अवसर प्राप्त होगा,जिससे इन्हें जीवन में सफल होने का अवसर प्राप्त होगा।

कार्यक्रम में विधायक पिथौरागढ़ चंद्रा पंत, अध्यक्ष जिला पंचायत दीपिका बोहरा,जिलाधिकारी आनन्द स्वरूप, पुलिस अधीक्षक सुखबीर सिंह, अपर जिलाधिकारी फिंचा राम चौहान, उपाध्यक्ष जिला पंचायत कोमल मेहता, अध्यक्ष दुग्ध संघ विनोद भट्ट, पूर्व अध्यक्ष जिला पंचायत वीरेन्द्र बोहरा, भाजपा जिला उपाध्यक्ष के एस वल्दियत,अपर निदेशक शिक्षा कुमाऊ रघुनाथ आर्य,संयुक्त मजिस्ट्रेट नंदन कुमार, मुख्य शिक्षा अधिकारी अशोक कुमार जुकरिया, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक एके गुसाईं समेत क्षेत्र के ग्राम प्रधान, क्षेत्र पंचायत सदस्य, स्थानीय गणमान्य नागरिक आदि उपस्थित रहे। वर्चुवल के माध्यम से विधायक गंगोलीहाट मीना गंगोला व अन्य जन प्रतिनिधि व अधिकारी व अन्य भी जुड़े रहे।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here