29.8 C
Dehradun
Sunday, July 25, 2021
Homeज्योतिषमहत्वपूर्ण खगोलीय घटना: देव गुरु बृहस्पति की शुरू हो रही है वक्री...

महत्वपूर्ण खगोलीय घटना: देव गुरु बृहस्पति की शुरू हो रही है वक्री चाल, जानें राशियों पर इसका प्रभाव

  • वर्ष 2021 की अति महत्वपूर्ण खगोलीय घटना
  • 20 जून से 14 सितंबर तक देवगुरु चलेंगे कुंभ राशि में
  • वक्री गति से सभी राशियों पर पड़ेगा शुभ- अशुभ प्रभाव

वर्ष 2021 के महत्वपूर्ण घटनाक्रम में गंगा दशहरा अर्थात मां गंगा के जन्म दिवस के शुभ अवसर पर देवगुरु बृहस्पति वक्री होकर कुंभ राशि में प्रवेश कर जाएंगे। उत्तराखंड ज्योतिष रत्न आचार्य डॉक्टर चंडी प्रसाद घिल्डियाल बताते हैं कि सौर मंडल के बड़े ग्रह देव गुरु बृहस्पति 20 जून को कुंभ राशि में वक्री होंगे और 14 सितंबर तक इसी राशि में वक्री गति से चलेंगे। ज्योतिष में ग्रह की चाल परिवर्तन को महत्वपूर्ण माना जाता है।

इस प्रकार के परिवर्तन का सभी राशियों पर शुभ-अशुभ प्रभाव पड़ता है। देवगुरु का कुंभ राशि में वक्री चाल चलने से सभी राशियां प्रभावित होंगी। ज्योतिष शास्त्र में बड़े हस्ताक्षर आचार्य चंडी प्रसाद के अनुसार किसी भी जातक की जन्म राशि के अनुसार इस प्रकार रहेगा बृहस्पति ग्रह का फलादेश। उनका यह भी कहना है कि यह फलादेश जन्म राशि के अनुसार ही फलित होगा लग्न के अनुसार 60 फीसदी फलित होगा।

मंत्रों की ध्वनि को यंत्रों में परिवर्तित करने के विज्ञान का विकास करने की वजह से मुख्यमंत्री द्वारा ज्योतिष वैज्ञानिक की उपाधि से सम्मानित आचार्य चंडी प्रसाद घिल्डियाल का कहना है कि यदि किसी व्यक्ति को पूर्ण वैदिक और वैज्ञानिक पद्धति से सिद्ध करके बृहस्पति ग्रह का यंत्र पहनाया जाता है तो विवाह में होने वाले विलंब से छुटकारा, पारिवारिक जीवन में झगड़ों से छुटकारा, किसी लड़की का विवाह नहीं हो रहा है उसका विवाह हो जाता है।

संतान प्राप्ति हो जाती है। यहां तक की मारक ग्रह की दशा चल रही हो तो अल्प मृत्यु से रक्षा हो जाती है। छोटे बच्चों की मंद बुद्धि तीव्र बुद्धि में बदल जाती है। नौकरी पेशा में प्रमोशन तथा व्यापार बिजनेस में धन प्राप्ति के मार्ग खुल जाते हैं।

मेष राशि: कार्यों में सफलता के लिए अधिक मेहनत करनी होगी। धन- हानि हो सकती है। इस दौरान धन- खर्च सोच- समझकर ही करें। किसी को कर्जा देते समय पूर्ण विचार कर ले। दांपत्य जीवन में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। परिवार के सदस्यों के साथ समय व्यतीत करें। स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना होगा।

वृष राशि: इस दौरान किसी भी कार्य को करने में जल्दबाजी न करें। वाद- विवाद से दूर रहें। इस समय नया कार्य शुरू न करें। व्यापार के लिए समय शुभ रह सकता है। पारिवारिक जीवन में आनंद का अनुभव करेंगे। परंतु कुटुंबी जनों के विरोध का सामना करना पड़ सकता है। आर्थिक पक्ष सामान्य रहेगा।

मिथुन राशि: मिथुन राशि के लिए गुरु का राशि परिवर्तन मिले- जुले परिणाम लेकर आ रहा है। शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए ये समय थोड़ा कठिन रह सकता है। परंतु भाग्य भाव में बृहस्पति का वक्री होना भाग्य की वृद्धि करेगा और भाग्य के सामने पराक्रम भी घुटने टेक देता है। यह समय धैर्य रख काम करने का है। पारिवारिक जीवन सुखमय रहेगा। इस समय सफलता प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी।

कर्क राशि: कर्क राशि के जातकों को इस समय समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना होगा। किसी भी कार्य को करने से पहले अच्छी तरह सोच- विचार कर लें। धन- लाभ हो सकता है, लेकिन धन का अधिक खर्च न करें।

सिंह राशि: सिंह राशि के जातकों को आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। किसी को कर्जा देने पर धन फंस जाएगा इससे विशेष सावधानी रखें। कार्यक्षेत्र में हर किसी भी भरोसा करने से नुकसान हो सकता है। लेन- देन न करें। दांपत्य जीवन में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। जीवनसाथी के साथ समय व्यतीत करें।

कन्या राशि: कन्या राशि के जातक इस समय अपने शत्रुओं पर हावी रहेंगे। मानसिक शांति का अनुभव करेंगे। स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। कार्यक्षेत्र में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों को सफलता के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी। वैवाहिक जीवन में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

तुला राशि: तुला राशि के जातकों का आर्थिक पक्ष कमजोर हो सकता है। पारिवारिक जीवन में उथल-पुथल होने की संभावना रहेगी सावधानी अपेक्षित है। जीवनसाथी के साथ मनमुटाव हो सकता है। लेन- देन न करें। ये समय निवेश करने के लिए शुभ नहीं है। इस समय स्वास्थ्य का भी ध्यान रखें।

वृश्चिक राशि: आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। वाद- विवाद से दूर रहने का समय है। सफलता प्राप्त करने के लिए अधिक मेहनत करने की आवश्यकता है। पारिवारिक जीवन में समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। नया वाहन और मकान जमीन खरीदने पर बहुत लाभ होगा, इसलिए इस समय नया वाहन या मकान खरीद सकते हैं। स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। जीवनसाथी के साथ समय व्यतीत करने का अवसर प्राप्त होगा।

धनु राशि: परिवार के सदस्यों के साथ मनमुटाव हो सकता है। मान- सम्मान और पद- प्रतिष्ठा में वृद्धि के योग बन रहे हैं। नौकरी पेशा लोगों को प्रमोशन तथा व्यापारियों को व्यापार से प्रचुर मात्रा में धन- लाभ हो सकता है। इस समय जीवन में कुछ परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है। इस समय धैर्य से काम लें।

मकर राशि: मकर राशि के जातकों को आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। खर्चों में वृद्धि हो सकती है।
स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना होगा। पारिवारिक जीवन में भी कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

कुंभ राशि: बाहरी व्यक्ति पर भरोसा करने से पहले अच्छी तरह सोच- विचार कर लें। बिजनेस और व्यापार के लिए यह स्वर्णिम अवसर है नए नए अवसरों की प्राप्ति होगी। स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। मान- सम्मान और पद- प्रतिष्ठा में वृद्धि के योग बन रहे हैं। आर्थिक पक्ष सामान्य रहेगा।

मीन राशि: शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए ये समय किसी वरदान से कम नहीं है। शत्रुओं पर विजय प्राप्त करेंगे। नौकरी पेशा लोगों को प्रमोशन एवं स्थान परिवर्तन का सुखद एहसास हो सकता है। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में शामिल होने का अवसर प्राप्त होगा। धन का खर्च सोच- समझकर ही करें।

———————

आचार्य परिचय: आचार्य डॉ0 चंडी प्रसाद घिल्डियाल
निवास: धर्मपुर चौक के पास अजबपुर रोड पर मोथरोवाला टेंपो स्टैंड 56 / 1 धर्मपुर देहरादून, उत्तराखंड।
मोबाइल नंबर: 9411153845
उपलब्धियां: वर्ष 2015 में शिक्षा विभाग में प्रथम गवर्नर अवार्ड से सम्मानित वर्ष 2016 में। सटीक भविष्यवाणी पर उत्तराखंड के तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत सरकार ने दी उत्तराखंड ज्योतिष रत्न की मानद उपाधि। त्रिवेंद्र सरकार ने दिया ज्योतिष विभूषण सम्मान। वर्ष 2013 में केदारनाथ आपदा की सबसे पहले भविष्यवाणी की थी। इसलिए 2015 से 2018 तक लगातार एक्सीलेंस अवार्ड प्राप्त हुआ। ज्योतिष में इस वर्ष 5 सितंबर 2020 को प्रथम वर्चुअल टीचर्स राष्ट्रीय अवार्ड प्राप्त किया। वर्ष 2019 में अमर उजाला की ओर से आयोजित ज्योतिष महासम्मेलन में ग्राफिक एरा में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दिया ज्योतिष वैज्ञानिक सम्मान।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!