मूलतः देहरादून निवासी वेब सीरीज तांडव के निर्देशक अली अब्बास जफर ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर बयान जारी करते हुए माफी मांगी है।

वेब सीरीज तांडव के जरिए हिंदू धर्म के लोगों की भावनाओं को आहत करने के आरोपों के बीच वेब सीरीज तांडव के निर्देशक अली अब्बास जफर ने यह बयान जारी किया है। निर्देशक अली अब्बास जफर ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर बयान जारी करते हुए कहा कि उनकी वेब सीरीज की कहानी पूरी तरह काल्पनिक है।

किसी भी घटना से इसकी तुलना पूरी तरह महज संयोग मात्र है। उनका इरादा किसी भी धर्म या समुदाय के लोगों की भावनाओं को चोट पहुंचाने का नहीं था। उधर, हरिद्वार के संतों ने ‘तांडव’ को हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं के साथ खिलवाड़ बताकर इस पर तत्काल रोक लगाने की मांग की।

देहरादून में भी आक्रोशित हिंदू वाहिनी के लोगों ने तांडव पर रोक लगाने की मांग करते हुए प्रदर्शन किया। अली ने लिखा कि सोमवार को उन्होंने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के साथ बैठक कर जनता की ओर से मिल रही प्रतिक्रिया पर विस्तार से बात की। यह फिल्म एक काल्पनिक कहानी है और किसी व्यक्ति या घटना से इसकी समानता महज एक संयोग है।

कलाकारों या वेब सीरीज से जुड़े अन्य लोगों का मकसद किसी की भी भावनाओं को चोट पहुंचाना या किसी का अपमान करना नहीं था। वेब सीरीज से जुड़े सभी कलाकार अन्य लोग जनता की भावनाओं का सम्मान करते हुए बिना शर्त माफी मांगते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here