27.9 C
Dehradun
Saturday, July 24, 2021
Homeहमारा उत्तराखण्डउत्तरकाशीरोमांच के शौकीन पर्यटक और पर्वतारोही कर सकेंगे एक अप्रैल से गंगोत्री...

रोमांच के शौकीन पर्यटक और पर्वतारोही कर सकेंगे एक अप्रैल से गंगोत्री नेशनल पार्क की सैर

रोमांच के शौकीन पर्यटक और पर्वतारोही आगामी एक अप्रैल से गंगोत्री नेशनल पार्क क्षेत्र में प्रवेश कर सकेंगे। पर्यटकों को स्थानीय पंजीकृत एजेंसियों के माध्यम से ही पार्क क्षेत्र में जाने की अनुमति मिलेगी। पार्क प्रशासन ने गंगोत्री-गोमुख ट्रेक की व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

उच्च हिमालयी गंगोत्री-कालिंदी-बद्रीनाथ ट्रेक और भारत-चीन सीमा स्थित नेलांग वैली के साथ ही दर्जनों हिमशिखरों और गंगा के उद्गम गोमुख, तपोवन आदि पर्यटन स्थलों की मौजूदगी के चलते गंगोत्री नेशनल पार्क वर्षों से पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।

हर साल बड़ी संख्या में देशी-विदेशी पर्यटक एवं पर्वतारोही यहां पहुंचते हैं। सर्दियों में बीते साल 30 नवंबर को पार्क के गेट पर्यटकों के लिए बंद किए गए थे। अब एक अप्रैल से पार्क क्षेत्र में पर्यटकों की आवाजाही शुरू हो जाएगी। पार्क प्रशासन ने इसके लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं। बृहस्पतिवार को वन दरोगा राजवीर रावत के नेतृत्व में वन विभाग की टीम ने कनखू बैरियर से भोजवासा तक रेकी कर ट्रेक का जायजा लिया।

उन्होंने बताया कि पार्क क्षेत्र में अभी भी काफी बर्फ जमा है। सर्दियों में भारी बर्फबारी और भूस्खलन के कारण कच्ची ढांग सहित कुछ अन्य स्थानों पर ट्रेक क्षतिग्रस्त हो गया है। जबकि कुछ जगहों पर भारी बोल्डर जमा हैं। अभी भोजवासा स्थित लाल बाबा आश्रम और जीएमवीएन का पर्यटक आवासगृह भी बंद है। अप्रैल माह में यहां पहुंचने वाले पर्यटकों को हिमाच्छादित वादियों का नजारा देखने को मिलेगा।

गंगोत्री नेशनल पार्क के वन क्षेत्राधिकारी प्रताप पंवार ने बताया कि गंगोत्री-गोमुख ट्रेक के क्षतिग्रस्त हिस्सों को दुरुस्त कराया जाएगा।  भोजवासा में ठहराव की व्यवस्था 14 मई को गंगोत्री धाम के कपाट खुलने के बाद ही उपलब्ध होगी। ऐसे में अपने साथ रहने खाने आदि की व्यवस्था के साथ जाने वाले पर्यटकों को ही जाने की अनुमति दी जाएगी। कलक्ट्रेट परिसर में सिंगल विंडो सिस्टम चालू होने तक पार्क के कोटबंगला स्थित कार्यालय से ही पर्यटकों को अनुमति जारी की जाएगी।

RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!