स्पर्श गंगा अभियान की राष्ट्रीय संयोजक और कत्थक नृत्यांगना आरुषी पोखरियाल निशंक को द एनर्जी एंड इंवायरमेंट फाउंडेशन द्वारा गंगा स्वच्छता और संरक्षण व संवर्धन के लिए ग्लोबल वाटर वूमेन इंटरप्रेन्योर अवार्ड-2020 से सम्मानित किया गया है।

द एनर्जी एंड इंवायरमेंट फाउंडेशन द्वारा यह सम्मान उन्हें गंगा स्वच्छता और संरक्षण व संवर्धन के लिए नई दिल्ली में एक वर्चुअल कार्यक्रम में केंद्रीय जल संसाधन मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, ऑस्ट्रेलिया के विदेश मामलों के मंत्री सीनेटर मारिस पायने, ऑस्ट्रेलिया के जल संसाधन मंत्री कीथ पिट, जल शक्ति मंत्रालय भारत के सचिव यूपी सिंह द्वारा संयुक्त रूप से प्रदान किया।

इस अवसर पर आरुषि निशंक ने कहा कि हमें पानी का संरक्षण करना चाहिए। देश के 22 शहरों में पानी का संकट है। पानी का 70 प्रतिशत पानी बर्बाद हो जाता है। जिसे हमें पौधों को पानी की तरह संरक्षित करने और उपयोग के तरीके खोजने चाहिए।

आरुषी निशंक पिछले एक दशक से स्पर्श गंगा अभियान के तहत गंगा एवं उसकी सहायक नदियों की स्वच्छता संरक्षण और संवर्धन के लिए कार्य कर रही हैं। साथ ही वह नारी सशक्तीकरण और सामाजिक क्षेत्र में सक्रिय हैं। आरुषी प्रसिद्ध कत्थक नृत्यांगना हैं, जो विश्व के एक दर्जन से अधिक देशों में प्रस्तुतियां दे चुकी हैं। वह फिल्म निर्माता भी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here